हिमाचल: पूर्व मंत्री राजन सुंशात बनाएंगे सियाली दल, विजयदशमी के मौके पर करेंगे ऐलान

राजन सुशांत धूमल सरकार में मंत्री रह चुके हैं.
राजन सुशांत धूमल सरकार में मंत्री रह चुके हैं.

पूर्व सांसद राजन सुंशात (Rajan Sushant) क्षेत्रीय दल का ऐलान करने जा रहे हैं. रविवार को विजयदशमी के दिन शिमला में वे अपने क्षेत्रीय दल की घोषणा करेंगे.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल में विधानसभा चुनाव के लिए बेशक अभी दो वर्ष का वक्त है. लेकिन उससे पहले ही सियासत में नए राजनीतिक दलों के आने का क्रम शुरू हो रहा है. पूर्व सांसद एवं बीजेपी छोड़कर पहले भी बागी हो चुके राजन सुंशात (Rajan Sushant) क्षेत्रीय दल का ऐलान करने जा रहे हैं. रविवार को विजयदशमी के दिन शिमला से नए क्षेत्रीय दल का ऐलान होगा. राजन सुंशात इसे तीसरे मोर्चे का नाम दे रहे हैं. जिसमें कुछ बड़े नाम भी आने वाले दिनों में शामिल हो सकते हैं.

रविवार को दिन को एक बजे शिमला में पार्टी को लेकर विधिवत ऐलान किया जाएगा. बता दें कि राजन सुंशात कांगड़ा-चंबा से बीजेपी के टिकट पर सांसद रह चुके हैं. हिमाचल में धूमल सरकार में राजस्व मंत्री भी रहे हैं. लेकिन उनकी पूर्व सीएम धूमल के साथ नहीं बनी. इसलिए 2014 में पार्टी से इस्तीफा दे दिया था.

हिमाचल में कुछ समय के लिए आम आदमी पार्टी का चेहरा भी बने, लेकिन वहां ज्यादा लंबा सफर नहीं रहा. अब राजन सुशांत प्रदेश और देश के कुछ मुद़्दों को लेकर नए राजनीतिक दल का गठन करने जा रहे हैं. इसमें कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना सहित बेरोजगारी का मुद्दा प्रमुख है. राजन सुशांत विधायकों-सांसदों के लिए भी पेंशन की सुविधा खत्म करने की मांग कर चुके हैं. खुद भी पेंशन त्यागने की बात कह चुके हैं.



बहरहाल देखना यह है कि प्रदेश में यह तीसरा मोर्चा क्या गुल खिलाता है. हालांकि हिमाचल का इतिहास रहा है कि क्षेत्रीय दल यहां ज्यादा समय तक नहीं टिके हैं. फिर चाहे वो पंडित सुखराम की हिमाचल विकास कांग्रेस पार्टी रही हो या फिर महेश्वर सिंह की हिमाचल लोकहित पार्टी. पंडित सुखराम की पार्टी का कांग्रेस और महेश्वर सिंह की पार्टी का बीजेपी में विलय हो गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज