कोटखाई गैंगरेप : आरोपी नीलू बोला- रेप में शामिल थे चार और लोग

शिमला के कोटखाई गैंगरेप के आरोपी को ले जाती सीबीआई टीम. (फाइल फोटो)

शिमला के कोटखाई गैंगरेप के आरोपी को ले जाती सीबीआई टीम. (फाइल फोटो)

गत 4 जुलाई 2017 को कोटखाई की एक छात्रा स्कूल से लौटते वक्त लापता हो गई थी. इसके बाद 6 जुलाई को कोटखाई के जंगल में बिना कपड़ों के पीड़िता की लाश मिली थी. छात्रा की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी.

  • Share this:
शिमला के कोटखाई में हुए गैंगरेप और मर्डर केस में बड़ा खुलासा हुआ है. मामले में पकड़े गए आरोपी का कहना है कि गैंगरेप में चार और लोग शामिल थे.



News-18 के पुख्ता सूत्रों के अनुसार, शिमला की कैथू जैल में बंद आरोपी नीलू ने साथी कैदियों को बताया, ‘दुष्कर्म में 4 और लोग शामिल थे. वह सभी को पहचानता है.’



हालांकि आरोपी नीलू का कहना है कि वह उनके नाम नहीं जानता है. लेकिन उन्हें पहचानता है. कोटखाई गैंगरेप के आरोपी नीलू ने सीबीआई को भी कटघरे में खड़ा किया है. उसका कहना है कि सीबीआई उसकी बात नहीं सुन रही है. सूत्रों के अनुसार, आरोपी नीलू को कैथू जेल में बैरक नंबर 3 में रखा गया है. मामले में आरोपी के खिलाफ सीबीआई चार्जशीट दाखिल कर चुकी है.





ये है मामला


गत 4 जुलाई 2017 को कोटखाई की एक छात्रा स्कूल से लौटते वक्त लापता हो गई थी. इसके बाद 6 जुलाई को कोटखाई के जंगल में बिना कपड़ों के पीड़िता की लाश मिली थी. छात्रा की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी. मामले में छह आरोपी पकड़े गए थे. इनमें एक की कोटखाई थाने में 18 जुलाई की रात को हत्या कर दी गई थी.



बाद में सीबीआई ने पकड़ा नीलू को



सीबीआई टीम ने दस महीने की छानबीन के बाद इस मामले में अब एक ही शख्स को ही आरोपी बनाया है. सीबीआई ने अपनी जांच में केवल नीलू को ही इस कांड को अंजाम देने के आरोपी बनाया है. सीबीआई की चार्जशीट के अनुसार, इस मामले को केवल एक ही शख्स ने अंजाम दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज