लाइव टीवी

सेब के दाम में लगातार गिरावट से बागवान चिंतित, CM जयराम को सौंपेंगे सर्वे रिपोर्ट

Reshma Kashyap | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 13, 2019, 9:34 AM IST
सेब के दाम में लगातार गिरावट से बागवान चिंतित, CM जयराम को सौंपेंगे सर्वे रिपोर्ट
सर्वे में देखा गया कि सेब सीजन के शुरू में काफी मात्रा में सेब मंडियों में आने से दाम काफी गिर जाते हैं.

इस साल सेब की बंपर फसल हुई है, जिसके चलते सेब के दामों में भी गिरवाट आई है. जाहिर है कि इससे बागवानों की चिंता बढ़ गई है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश की आर्थिकी में सेब (Apple) का बहुत बड़ा योगदान है. इस साल सेब की बंपर फसल हुई है, जिसके चलते सेब के दामों में भी गिरवाट आई है. जाहिर है कि इससे बागवानों की चिंता बढ़ गई है. राजीव गांधी पंचायती राज संगठन (Rajiv Gandhi Panchayati Raj organisation) ने बागवानों को आ रही समस्याओं को लेकर एक कमेटी का गठन कर छह बिन्दुओं की रिपोर्ट (Survey Report) तैयार की है और इस रिपोर्ट को सरकार को सौंप कर समस्याओं को जल्द सुलझाने की मांग की है. रिपोर्ट में सेब को सुरक्षित रखने के लिए 5 पंचायतों के लिए एक कोल्ड स्टोर खोलने ओर सेब बहुल क्षेत्रो में फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाने और दवाइयों पर चेक रखने के सुझाव सरकार को दिए हैं.

फैक्ट फाइंडिंग कमेटी ने तैयार ​की सर्वे रिपोर्ट

राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश समन्वयक दीपक राठौर ने कहा कि प्रदेश की आर्थिकी में सेब का बहुत बड़ा योगदान है, लेकिन साल दर साल सेब के बागवानों पर संकट बढ़ता जा रहा है. राजनीति से ऊपर उठ कर बागवानों आढ़तियों को आ रही समस्याओं को एक फैक्ट फाइडिंग कमेटी का गठन किया गया था. इस कमेटी में बागवानों को शामिल किया गया जिन्होंने जमीनी स्तर पर सर्वे किया है और एक रिपोर्ट तैयार की.

Deepak Rathaur
राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश समन्वयक दीपक राठौर ने कहा कि सेब के बागवानों पर संकट बढ़ता जा रहा है.


मंडियों में एक साथ भारी मात्रा में सेब आने से गिर जाते हैं भाव

सर्वे में देखा गया कि सेब सीजन के शुरू में काफी मात्रा में सेब मंडियों में आने से दाम काफी गिर जाते हैं. सेब को सुरक्षित रखने के लिए पंचायतों में कोल्ड स्टोर खोलने का सुझाव दिया गया ताकि बाज़ारों में मांग बढ़े तो सेब को मंडियों में ले जाया जा सके. इसके अलावा सरकार का नकली दवाइयों की सप्लाई पर कोई नियंत्रण नहीं. इसके चलते सेब के पौधों पर बुरा असर पड़ रहा है.

21 अक्टूबर के बाद सीएम जयराम को सौंपी जाएगी रिपोर्ट
Loading...

राठौर ने कहा कि बागवानों की समस्याओं को लेकर एक 6 बिंदुओं की रिपोर्ट तैयार की गई है, जिसे 21 अक्तूबर के बाद सीएम जयराम ठाकुर और बागबानी मंत्री को सौंपा जाएगा और बागवानों की समस्याओं को जल्द सुलझाने की मांग की जाएगी और यदि सरकार इस तरफ़ कोई ध्यान नहीं देती है तो आने वाले समय में बागवानों के साथ सड़कों पर उतर कर उग्र आंदोलन शुरू किया जाएगा.

यह भी पढ़ें:  रंगड़ों के हमले में 85 वर्षीय वृद्ध महिला की मौत, 6 पालतू जानवर भी मरे

राहुल गांधी पर दिग्विजय सिंह ने दिया अहम बयान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 9:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...