लाइव टीवी

हिमाचल सरकार की गाइडलाइन्स: जून तक पूरी करनी होगी पंचायतों की पुनर्गठन प्रक्रिया
Shimla News in Hindi

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 12, 2020, 12:09 PM IST
हिमाचल सरकार की गाइडलाइन्स: जून तक पूरी करनी होगी पंचायतों की पुनर्गठन प्रक्रिया
हिमाचल प्रदेश में नई पंचायतों की गठन की प्रक्रिया चल रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

पंचायती राज विभाग ने नीतिगत फैसला लेते हुए विभाग में तकनीकी विंग गठित कर लिया है. साथ ही 115 तकनीकी सहायकों के पद भरने को भी स्वीकृति प्रदान कर दी है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में लंबे अरसे के बाद हो रही पंचायतों के पुनर्गठन की प्रक्रिया जून तक पूरी करनी होगी. इसी साल के अंत में पंचायत चुनाव (Panchyat Election) भी होने हैं. साथ ही 10 वर्ष बाद होने वाली जनगणना (Census) की प्रक्रिया भी शुरू हो रही है.

इसी वजह से पंचायतों के पुनर्सीमांकन को लेकर केंद्र सरकार (Center Government) ने जून माह की डेडलाइन दी है. हिमाचल में सभी जिलों से नई पंचायतों के गठन के लिए करीब 400 प्रस्ताव आए हैं. ऐसे में अब सरकार ने पुनर्सीमांकन की प्रक्रिया शुरू करने से पहले गाइडलाइन तय कर दी है, जिसमें मुख्य बात यह रहेगी कि पंचायत का गठन जनसंख्या की बजाए परिवार की संख्या के आधार पर होगी.

फिजिकल वैरिफिकेशन होगी
जिला स्तर पर एक कमेटी का गठन होगा. जो सभी प्रस्तावों को फिजिकल एग्जामिन करेंगे. कमेटी को अगर जरूरी लगा तभी पंचायतों को दो भागों में बांटकर नई पंचायत के रूप में मान्यता दी जाएगी. पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि कुछ पंचायतों में लोगों को 20 से 25 किलोमीटर का सफर तय करके पंचायत मुख्यालय पहुंचना पड़ता है. इन पंचायतों के पुनर्सीमांकन को तरजीह दी जाएगी. इसके अलावा दो विधानसभा क्षेत्रों में बीच में फंसी पंचायत को भी एक ही विधानसभा क्षेत्र में शामिल किया जाएगा. पंचायतों का पुनर्गठन मेरिट के आधार पर ही होगा.

वर्तमान में 3226 पंचायतें
गौरतलब है कि वर्तमान में 3226 पंचायतें हैं. डिलिमिटेशन के बाद यह संख्या बढ़ जाएगी. हालांकि, 400 प्रस्तावों में से सभी को स्वीकृत करने के पक्ष में सरकार नहीं है. क्योंकि हर पंचायत पर करीब 50 लाख रुपये खर्च होना है. ऐसे में 100 से ज्यादा नई पंचायतों का गठन सरकार कर सकती है.

हिमाचल के पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर. (FILE PHOTO)
हिमाचल के पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर. (FILE PHOTO)
पंचायती राज विभाग में खुला नौकरियों का पिटारा
पंचायती राज विभाग ने नीतिगत फैसला लेते हुए विभाग में तकनीकी विंग गठित कर लिया है. साथ ही 115 तकनीकी सहायकों के पद भरने को भी स्वीकृति प्रदान कर दी है. वर्तमान में छह-छह पंचायतों पर एक तकनीकी सहायक तैनात है. अब हर तीन पंचायत पर एक तकनीकी सहायक तैनात किया जाएगा. इससे पंचायतों के विकास कार्यों को गति मिलेगी और समय पर तकनीकी सहायक अपनी रिपोर्ट दे सकेगा.

ये भी पढ़ें: हिमाचल पुलिस के जवान ने महिला पुलिस कर्मी के इनरवियर पर लिखे अश्लील शब्द, FIR

SP दिवाकर इन एक्शन: डेढ़ साल में नशे का एक भी केस नहीं पकड़ा, SHO सस्पेंड

टीचर ने छात्रा से लैब में की छेड़छाड़, फेसबुक ID मांगी,‘तुम्हें पसंद करता हूं‘

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 12:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर