लाइव टीवी

गर्ल्स स्कूल का औचक निरीक्षण करने पहुंचे राज्यपाल दत्तात्रेय, छात्राओं ने पूछे कई सवाल

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 14, 2019, 7:22 PM IST
गर्ल्स स्कूल का औचक निरीक्षण करने पहुंचे राज्यपाल दत्तात्रेय, छात्राओं ने पूछे कई सवाल
राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने छात्राओं को कहा कि वे महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद, एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन से शिक्षा लें.

राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने छात्राओं को तन, मन और बुद्धि को साफ रखने, व्यायाम करने और पढ़ाई के साथ साथ हर गतिविधि में हिस्सा लेने की सलाह दी. इसके अलावा महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद और डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की जीवनी को पढ़ने और उनके जीवन से प्रेरणा लेने की भी बात कही.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय (Governor Bandaru Dattatreya) ने सोमवार को अचानक पोर्टमोर गर्ल्स स्कूल (Portmore Girls School) पहुंचकर सबको चौंका दिया. राज्यपाल का इस तरह का कोई भी कार्यक्रम तय नहीं था. राज्यपाल स्कूल का निरीक्षण करने और छात्राओं से बातचीत करने पहुंचे थे. राज्यपाल सुबह करीब 11 बजे स्कूल पहुंचे. राज्यपाल को देख पूरे स्टाफ के हाथ-पांव फूल गए. राज्यपाल ग्यारहवीं कक्षा के कमरे में पहुंचे.

इस कमरे में इतिहास की कक्षा चल रही थी. राज्यपाल ने इतिहास को लेकर छात्राओं की क्लास ली. इतिहास को लेकर छात्राओं से कई सवाल पूछे. साथ ही दिनचर्या, खेलकूद और अन्य गतिविधियों के बारे में भी पूछा. स्कूल और पढ़ाई से संबंधित परेशानियों और समस्याओं के बारे में भी पूछा.

राज्यपाल ने छात्राओं को जरूरी टिप्स भी दिए. छात्राओं ने स्कूल में शौचालय (Toilets in School) की खराब हालत और आने-जाने के लिए बस सेवा की कमी की बात बताई. राज्यपाल ने सभी समस्याओं का निपटारा करने का आश्वासन दिया.



राज्यपाल ने छात्राओं से गीत भी सुने

राज्यपाल ने छात्राओं को तन, मन और बुद्धि को साफ रखने, व्यायाम करने और पढ़ाई के साथ साथ हर गतिविधि में हिस्सा लेने की सलाह दी. इसके अलावा महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद और डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की जीवनी को पढ़ने और उनके जीवन से प्रेरणा लेने की भी बात कही. राज्यपाल ने छात्राओं की प्रतिभा को परखने के लिए सवालों के साथ साथ गीत भी सुने.

राज्यपाल बायोलॉजी क्लास में गए और हॉस्टल का भी निरीक्षण किया.

Loading...

इसके बाद राज्यपाल बायोलॉजी क्लास में गए और हॉस्टल का भी निरीक्षण किया. हॉस्टल के निरीक्षण के बाद राज्यपाल ने सभी बच्चों को संबोधित किया. अच्छी सीख वाली कहानी भी सुनाई. उन्होंने स्कूल में कमियों को दूर करने के लिए 5 लाख रुपए दिए. जानकारी के मुताबिक राज्यपाल जब राजभवन से निकलेतो किसी को इस बात की जानकारी नहीं थी. गाड़ी में बैठने के बाद ही स्टाफ को बताया कि पोर्टमोर स्कूल जाना है.

पोर्टमोर स्कूल की छात्राओं ने राज्यपाल से भी कई सवाल पूछे


News 18 से एक्सलूसिव बातचीत में राज्यपाल ने कहा कि वो प्रदेश के अन्य सरकारी स्कूलों में भी जाएंगे. ग्रामीण इलाकों के स्कूलों में ज्यादा समस्याएं होती हैं. इसलिए ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा. प्रदेश सरकार और शिक्षा विभाग को भी जरूरी दिशा-निर्देश दिए जाएंगे. राज्यपाल से मिलकर स्टाफ और छात्राओं ने खुशी जताई और कहा कि उन्हें बहुत कुछ सीखने को मिला.

ये भी पढ़ें - आंतकी हमले पर रेड अलर्ट: नूरपुर में 300 जवानों और कमांडो ने चलाया सर्च ऑपरेशन

ये भी पढ़ें - कपिल के शो में बजा ‘नीरू चली घूमदी’, हिमाचली बच्चों ने गोविंदां संग डाली नाटी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 3:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...