Govt Jobs in Himachal: हिमाचल में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में निकली वैंकेसी, 940 पदों पर होगी भर्ती

हिमाचल में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन.

हिमाचल में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन.

Govt Jobs in Himachal: जनरल के लिए 396, एससी के लिए 176, एसटी के लिए 34, ओबीसी के लिए 142 सीटे रखी गई हैं. फ्रीडम फाइटर कोटे से सामान्य वर्ग के लिए 11, एससी 6, ओबीसी के लिए 5, आईआरडीपी में सामान्य वर्ग के लिए 91, एससी के लिए 34, एसटी 11 और ओबीसी के लिए 34 सीटें रिजर्व हैं.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) में बंपर भर्तियां निकली है. सरकारी नौकरी की इच्छा रखने वालों के लिए अच्छी खबर है. हिमाचल प्रदेश हेल्थ मिशन में कम्यूनिटी हेल्थ अफसर (सीएचओ) के 940 पद भरे जा रहे हैं. आवेदन की अंतिम तिथि 21 जून है. आवेदन करने वाले अभ्यर्थी के पास ब्रिज प्रोग्राम फॉर सर्टिफिकेट इन कम्यूनिटी हेल्थ का डिप्लोमा होना जरूरी है. यह डिप्लोमा बीएससी नर्सिंग के बाद या फिर इंटरग्रेटिड कोर्स ऑफ मिड लेबल हेल्थ प्रोवाइडर बीएससी नर्सिंग के बाद होना अनिवार्य है.

एनएचएम के मुताबिक, चयनित लोगों की की तैनाती फील्ड में होगी, क्योंकि प्रदेश में कोरोना काल में एनएचएम के पास स्टाफ कम है. ऐसे में इन अफसरों को सैंपल लेने फील्ड में भेजा जाएगा. प्रदेश में कोरोना की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर प्रदेश सरकार ने कमर कस ली है.

कितनी सीटें किस के लिए

जनरल के लिए 396, एससी के लिए 176, एसटी के लिए 34, ओबीसी के लिए 142 सीटे रखी गई हैं. फ्रीडम फाइटर कोटे से सामान्य वर्ग के लिए 11, एससी 6, ओबीसी के लिए 5, आईआरडीपी में सामान्य वर्ग के लिए 91, एससी के लिए 34, एसटी 11 और ओबीसी के लिए 34 सीटें रिजर्व हैं.
नर्सों ने जताया विरोध

वहीं, नर्सों ने भर्ती के लिए रखी गईं शर्तों का विरोध किया है. एनएचएम की ओर से जारी अधिसूचना में जो योग्यता इन पदों के लिए अंकित है, उसके विरोध में नर्सों ने एनएचएम के मिशन निदेशक को पत्र लिखा है. नर्सों का कहना है कि जो शर्तें लगाई गई हैं, वे नियमों का उल्लंघन हैं. इसमें ये भी हवाला दिया गया है कि जब 2019-2020 में एनएचएम हिमाचल प्रदेश ने 500 से ज्यादा कम्यूनिटी हेल्थ अफसर के पद भरे थे.उन्हें एचएलएल कंपनी के माध्यम रखा था, लेकिन उस समय ऐसी कोई शर्त नहीं थी. ऐसे में एनएचएम को पुराने तरीके से इन पदों की भर्ती करनी चाहिए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज