हरीश जनारथा का डेढ़ साल बाद वनवास खत्म, कांग्रेस पार्टी में आज हुई वापसी

शिमला से कांग्रेस पार्टी के नेता हरीश जनारथा की शुक्रवार को आधिकारिक तौर रूप कांग्रेस पार्टी में वापसी हुई. 17 अप्रैल को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर के आग्रह पर हरीश जनारथा के निष्कासन को रद्द किया गया.

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: April 19, 2019, 3:41 PM IST
हरीश जनारथा का डेढ़ साल बाद वनवास खत्म, कांग्रेस पार्टी में आज हुई वापसी
हरीश जनारथा की कांग्रेस में डेढ़ साल बाद वापसी हुई है
G.S. Tomar
G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: April 19, 2019, 3:41 PM IST
हिमाचल प्रदेश में शिमला से कांग्रेस पार्टी के नेता हरीश जनारथा की शुक्रवार को आधिकारिक तौर रूप कांग्रेस पार्टी में वापसी हुई. 17 अप्रैल को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर के आग्रह पर हरीश जनारथा के निष्कासन को रद्द किया गया. हरीश जनारथा अपने समर्थकों के साथ पार्टी कार्यालय पहुंचे और प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर का आभार जताया. जनारथा ने पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह और पार्टी हाईकमान के प्रति भी अपना आभार व्यक्त किया और कहा कि कांग्रेस पार्टी के हमेशा सेवा की है और आगे भी करता रहूंगा.

गौरतलब है कि वर्ष 2017 में हरीश जनारथा ने शिमला शहर से पार्टी का टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा, जिसके चलते डेढ़ साल पहले पार्टी से निष्कासित किया गया था.



कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने हरीश जनारथा की घर वापसी पर स्वागत किया और कहा कि उनके आने से शिमला में पार्टी को मजबूती मिलेगी. लोकसभा चुनाव में सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं की एकजुटता से पार्टी की जीत सुनिश्चित होगी.

यह भी पढ़ें: VIDEO: कुल्लू के 105 वर्षीय शमशेर सिंह की अपील-'बेहतर सरकार के लिए वोट दो'

VIDEO: जानिए क्यों, भारत-चीन बॉर्डर पर बसे इस गांव के लोग करेंगे वोटिंग का बहिष्कार 

सतपाल सत्ती के विवादित बयान भाजपा पर पड़ेंगे भारी : वीरभद्र सिंह

ऊना में वीरभद्र ने कहा-'सत्ती का मानसिक संतुलन खराब तो कुलदीप ने की RSS की तारीफ
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार