8 बार के विधायक और मंत्री कौल सिंह इस ‘वजह’ से नहीं बन पाए CM

News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 2:12 PM IST
8 बार के विधायक और मंत्री कौल सिंह इस ‘वजह’ से नहीं बन पाए CM
Health Minister Kaul Singh.
News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 2:12 PM IST
जिला मंडी की द्रंग सीट से 8 बार विधानसभा पंहुच चुके और 9वीं बार विधान सभा की दहलीज पार करने का दावा करने वाले वरिष्ठ स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर के मन में मुख्यमंत्री न बन पाने का मलाल तो है लेकिन इसके लिए किस्मत को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

‘न्यूज-18 हिमाचल’ से खास बातचीत में कौल सिंह ठाकुर ने कहा कि ज्यादा मतदान ने कांग्रेस पार्टी की जीत सुनिश्चित कर दी है.

ठाकुर ने कहा कि उनकी बेटी चंपा ठाकुर मंडी के सदर सीट से अनिल शर्मा को भारी मतों से पराजित करेगी. वहीं, द्रंग से कौल सिंह ने जीत का दावा किया है. कौल सिंह ने कहा कि प्रेम कुमार धूमल को सीएम का उम्मीदवार घोषित करने के बाद भी भाजपा को काई फायदा नहीं मिला.

कौल सिंह ने कहा कि भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व कौवों की तरह प्रदेश में मंडराते रहे, लेकिन कोई खास फर्क चुनाव में नहीं पड़ा. प्रदेश की जनता ने विकास को वोट किया और सरकार रिपीट करेगी. बता दें कि मौजूदा सरकार में स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भी रह चुके हैं.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर