कांग्रेस प्रभारी के दौरे पर गरमायी सियासत, कैबिनेट मंत्री ने कसा तंज

कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल के हिमाचल के पहले दौरे पर सियासत गर्मा गई है. प्रभारी के स्वागत के लिए एक गुट कांग्रेस ऑफिस आया लेकिन दूसरा गुट नहीं आया.जो गुट आया उसके नेताओं का भी कहना है कि वीरभद्र सिंह वरिष्ठ नेता हैं लेकिन पार्टी से ऊपर नहीं.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 14, 2018, 1:33 PM IST
कांग्रेस प्रभारी के दौरे पर गरमायी सियासत, कैबिनेट मंत्री ने कसा तंज
अनिल शर्मा, कैबिनेट मंत्री
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 14, 2018, 1:33 PM IST
कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल के हिमाचल के पहले दौरे पर सियासत गर्मा गई है. प्रभारी के स्वागत के लिए एक गुट कांग्रेस ऑफिस आया लेकिन दूसरा गुट नहीं आया.जो गुट आया उसके नेताओं का भी कहना है कि वीरभद्र सिंह वरिष्ठ नेता हैं लेकिन पार्टी से ऊपर नहीं.वहीं प्रदेश प्रभारी के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के घर जाकर मिलने पर खासी टीका टिप्पणी हो रही है.पहले से ही राज्य में कमजोर चल रही कांग्रेस के लिए लोकसभा के चुनाव को देखते हुए यह अच्छे संकेत नहीं माने जा रहे. उधर जयराम सरकार में मंत्री अनिल शर्मा ने दौरे पर हुई सियासत को लेकर कांग्रेस और कांग्रेस के बड़े नेता पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह पर निशाना साधा है.

सत्तापक्ष को कांग्रेस पर निशाना साधने का एक अच्छा मौका इससे मिल गया. पूर्व की वीरभद्र सिंह सरकार में मंत्री रहे और अब वर्तमान सरकार में कैबिनेट मंत्री अनिल शर्मा ने पूछा कि प्रभारी की ऐसी क्या मजबूरी रही कि उन्हें वीरभद्र सिंह के घर जाना पड़ा. उन्होंने सवाल किया कि पार्टी बड़ी होती है या व्यक्ति विशेष. उन्होंने कहा कि एक छत्र राज के चलते ही हमें भी इस पाटी से बाहर निकलना पड़ा है. ऐसे में अब कांग्रेस नेताओं को भी खुलकर बोलना चाहिए. गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अनिल शर्मा और उनके पित पूर्व केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम ने कांग्रेस को छोड़ा था. उन्होंने आरोप लगाया गया था कि वीरभद सिंह ने उनके परिवार का अपमान किया है.
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Himachal Pradesh News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर