लाइव टीवी

कोरोना संकट में 440 बोल्ट का झटका: 2 माह से होटल बंद, 1.5 लाख रुपये आया बिजली बिल
Shimla News in Hindi

Ranbir Singh | News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 9:03 PM IST
कोरोना संकट में 440 बोल्ट का झटका: 2 माह से होटल बंद, 1.5 लाख रुपये आया बिजली बिल
हिमाचल में बिजली बिल की समस्या.

अब तक प्रदेश के 12 लाख उपभोक्ताओं को इसी तरह के बिल जारी किए गए है, जबकी 10 लाख से ज्यादा उपभोक्ताओं को बिल जारी होने बाकी हैं. इस बाबत जब में राज्य बिजली बोर्ड के मुख्यालय पहुंचे तो बोर्ड के एमडी आरके शर्मा ने स्थिति स्पष्ट की.

  • Share this:
शिमला. कोरोना संकट (Corona) के बीच कई लोगों का रोजगार चला गया है. आमदनी पर कैंची चली है और ऐसे में अब बिजली (Electricity) के बिलों ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं.. हिमाचल प्रदेश (Himachal) में लोगों को 2 से तीन गुना बिल आए हैं, जिन पर सवाल उठना शुरू हो गए हैं. कुछ लोगों ने इसकी शिकायत भी दर्ज करवाई है. समरहिल में किराए के मकान में रह रहे हर्षवर्धन स्टूडेंट हैं और बिजली बोर्ड ने इन्हें 4700 रुपये बिल (Bill) थमाया है, जोकि दो महीने का है. सिंगल रूम में रहते हैं और साथ में एक दोस्त रहता है. घर से सीमित खर्चा मिलता है. राशन-पानी, कमरे का किराया के अलावा अन्य खर्चे हैं. अब मुश्किल आ गई है कि कैसे खर्चा करें?

होटल दो माह से बंद हैं
समरहिल में ही दुकान चलाने वाले विक्की की दुकान में एक बल्ब चलता है और एक फ्रिज चलता है. विक्की को 2 महीने का 3600 रुपये बिल थमाया गया है. इन्हीं की तरह कई लोगों बिजली के बिल से परेशान हैं. बिजली बोर्ड के नजदीकी दफ्तर में जाकर शिकायत दर्ज करवा चुके हैं. इसी तरह से शिमला के एक होटल को दो माह का डेढ़ लाख रुपये बिल दिया गया है, जबकि होटल बीते दो माह से बंद हैं.

औसत बिल जारी किए गए- विभाग



अब तक प्रदेश के 12 लाख उपभोक्ताओं को इसी तरह के बिल जारी किए गए है, जबकी 10 लाख से ज्यादा उपभोक्ताओं को बिल जारी होने बाकी हैं. इस बाबत जब में राज्य बिजली बोर्ड के मुख्यालय पहुंचे तो बोर्ड के एमडी आरके शर्मा ने स्थिति स्पष्ट की. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कर्फ्यू के चलते बोर्ड कर्मी मीटर रीडिंग के लिए घर-घर नहीं जा पाए हैं, इसलिए एक औसत बिल जारी किया गया. यह औसत इस तरह निकाली गई कि जिस उपभोक्ता को बिल जारी किया गया , उसकी पिछले साल की बिजली की खपत को देखा गया. जितनी खपत मौजूदा महीनों में पिछले साल हुई थी, उतना ही बिल इस बार दिया गया.



उपभोक्ता घबराएं नहीं: आरके शर्मा
आरके शर्मा का कहना है कि उपभोक्ता घबराएं नहीं. जिन्हें लगता है कि बिल ज्यादा है, वह अपने नजदीकी सब डिविजन के ऑफिस जाकर इसे दुरुस्त करवा सकता है. पिछली बार के बिल को साथ ले जाएं. उसमें मीटर रीडिंग लिखी होती है और अब जो मीटर रीडिंग दिखा रहा है, उसकी फोटो खींच कर भी ले जा सकते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि जो पूरा बिल जमा नहीं कर सकता है, वो किश्तों में बिल जमा कर सकता है. अगले महीने से मीटर रीडिंग के आधार पर बिल जारी किए जाएंगे, जिनका ज्यादा बिल आया होगा, वह अगले महीने एडजस्ट किया जाएगा.

ये भी पढ़ें: EXCLUSIVE: हिमाचल स्वास्थ्य विभाग में लेनदेन का Audio वायरल, विजिलेंस को जांच

US में हिमाचली युवती-पंजाबी युवक की शादी, पालमपुर से फोन पर मिला ‘आशीर्वाद‘

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 1:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading