हिमाचल : सेब सीजन में लग रहा है भारी जाम, ढुलाई के लिए छैला-सोलन सड़क खोली

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शिमला में एचपीएमसी और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की. इसमें सेब ढुलाई को लेकर महत्वपूर्ण फैसले किए गए हैं.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 7:28 PM IST
हिमाचल : सेब सीजन में लग रहा है भारी जाम, ढुलाई के लिए छैला-सोलन सड़क खोली
शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शिमला में एचपीएमसी और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की. इसमें सेब ढुलाई को लेकर महत्वपूर्ण फैसले किए गए हैं.
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 7:28 PM IST
हिमाचल में  सेब सीजन के चलते राजधानी शिमला जाम से दो चार हो रही है. इसे देखते हुए सरकार ने जाम से निपटने का तरीका ढूंढ निकाला है. शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शिमला में एचपीएमसी और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की. इसमें सेब ढुलाई को लेकर महत्वपूर्ण फैसले किए गए हैं. ऊपरी शिमला के क्षेत्रों से जारी सेब ढुलाई और छैला-शिमला सड़क पर यातायात व्यवस्था को सुचारु बनाए रखने के लिए छैला-सोलन सड़कको सभी प्रकार के यातायात के लिए खोल दिया गया है. लोक निर्माण विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने छैला-सोलन सड़क का स्वयं जायजा लिया और इसे बड़े वाहनों के उपयोग के लिए उपयुक्त पाया गया है. इसके बाद इस सड़क मार्ग को बड़े वाहनों के लिए भी इस्तेमाल करने का निर्णय लिया गया है.

पिक-अप वाहनों को अब वाया मशोबरा-भेखल्टी भेजा जाएगा

apple-सेब
भट्टाकुफर मण्डी जाने वाली सेब की गाड़ियों को पुलिस कर्मचारियों द्वारा छराबड़ा औरकोटी में टोकन प्रदान किए जाएंगे.


सुरेश भारद्वाज ने कहा कि शिमला से ठियोग की ओर जाने वाले खाली पिक-अप वाहनों को अब वाया मशोबरा-भेखल्टी भेजा जाएगा. ढली चौक से भट्टाकुफर सड़क के किनारे किसी भी वाहन को खड़ा करने की अनुमति नहीं होगी. भट्टाकुफर मण्डी जाने वाली सेब की गाड़ियों को पुलिस कर्मचारियों द्वारा छराबड़ा औरकोटी में टोकन प्रदान किए जाएंगे और केवल टोकन वाले वाहनों को ही भट्टाकुफर मण्डी में प्रवेश की अनुमति होगी. इसके अतिरिक्त, भट्टाकुफर मण्डी में सेब की नीलामी के उपरांत संबंधित वाहनों को खड़े करने की अनुमति भी नहीं दी जाएगी.

मंत्री सुरेश भारद्वाज ने दिए ये निर्देश

उन्होंने उपमंडलाधिकारी शिमला, ग्रामीण को भट्टाकुफर मण्डी क्षेत्र में वाहनों की उचित व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए. उन्होंने राष्ट्रीय उच्च मार्ग के अधिकारियों को पुलिस की मदद से हसन वैली सड़क के दोनों ओर खड़े वाहन को तुरन्त हटाने के आदेश दिए. उन्होंने राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर पुराने बैरियर के समीप सुचारु यातायात व्यवस्था के लिए निर्माण सामग्री तुरंत हटाने और तारादेवी-शोघी सड़क के दोनों ओर खड़े वाहनों को हटाने के लिए भी राष्ट्रीय उच्च मार्ग के अधिकारियों को निर्देश दिए.

तत्काल खराब गाड़ियों की हो मरम्मत की सुविधा
Loading...

ढली-ठियोग क्षेत्र के मोटर मैकेनिकों के सम्पर्क नंबर पुलिस एवं अन्य नियन्त्रण कक्षों के सूचना पट्ट पर अंकित करने के प्रशासन को निर्देश दिए ताकि सेब से लदे खराब ट्रकों व अन्य वाहनो को मरम्मत करवाने की सुविधा जल्द उपलब्ध करवाई जा सके. उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को ठियोग के निकट रईघाट सड़क की तुरन्त मुरम्मत के निर्देश दिए. उन्होंने संबंधित विभाग को छैला-हसल वैली सड़क किनारे खड़े सेबों से लदे ट्रकों के खराब होने की स्थिति में पर्याप्त व्यवस्था कर जल्द हटाने के निर्देश दिए.

सुरेश भरद्वाज ने एपीएमसी अध्यक्ष को निर्देश दिए कि केटीसी कम्पनी जैसी बड़ीकंपनियों के सेब ट्रकों को भट्टाकुफर मण्डी न ले जाकर सीधे मल्याणा स्थित गोदामों में ले जाना सुनिश्चित करें. बैठक में उपायुक्त शिमला अमित कश्यप और बागवानी, एचपीएमसी, पीडब्ल्यूडी, एचआरटीसी, पुलिस इत्यादि विभिन्न विभागों के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

यहां भी पढ़ें: हिमाचल में मॉनसून: एक माह में पानी में बहे 364 करोड़ रुपये

BREAKING: लेह-लद्दाख की ओर जा रहे पेट्रोल से भरा टैंकर 100 फीट गहरी खाई में गिरा, ड्राइवर की मौत
First published: August 13, 2019, 7:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...