होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

हिमाचल में भारी बारिशः धर्मशाला-चंडीगढ़ हाईवे खुला, लाहौल के जसरथ गांव में पुल क्षतिग्रस्त

हिमाचल में भारी बारिशः धर्मशाला-चंडीगढ़ हाईवे खुला, लाहौल के जसरथ गांव में पुल क्षतिग्रस्त

सूबे के कांगड़ा जिले के धर्मशाला में भारी बारिश से लैंडस्लाइड हुआ है.

सूबे के कांगड़ा जिले के धर्मशाला में भारी बारिश से लैंडस्लाइड हुआ है.

Heavy Rain in Dharamshala: दोनों ओर से वाहनों की आवाजाही थम गई है. यातायात को दूसरे मार्गों से बाईफ्रिकेट किया गया है. ताजा जानकारी के अनुसार, अब तक मौके पर PWD और NHAI की मशीनरी नहीं पहुंची है.

शिमला/धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश का दौर बदसतूर जारी है. सूबे में मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार झमाझम बारिश हो रही है. सूबे के कांगड़ा जिले के धर्मशाला में भारी बारिश से लैंडस्लाइड हुआ है. यहां पर लैंडस्लाइड के चलते धर्मशाला-चंडीगढ़-दिल्ली नेशनल हाइवे ब्लॉक हो गया है.  हाईवे पर चैतडू के पास मलबा सड़क पर आया है. अब हाईवे को बहाल कर दिया गया है. ढाई घंटे बाद हाईवे खोला गया है. इस दौरान दोनों ओर से वाहनों की आवाजाही थम गई है. यातायात को दूसरे मार्गों से बाईफ्रिकेट किया गया था.

कांगड़ा में देर रात से ही भारी बारिश हो रही है.

वहीं, लाहौल स्पीति के जाहलमा में जसरथ गांव को जोड़ने वाले पुल का एक हिस्सा टूट गया है और अब यह पुल पूरी तरह से चंद्रभागा नदी में बहने की कगार पर है. पुल से पहले पिलर में भी दरारें आ गई हैं.

कुल्लू में सड़कें बदहाल होने के कारण बंजार उपमंडल में 11 स्कूलों में 20 अगस्त तक अवकाश रहेगा.डीसी कुल्लू आशुतोष गर्ग ने स्कूलों की सूची जारी करते हुए आदेश जारी किया है. क्षेत्र में बरसात के चलते सड़कें जगह-जगह पर क्षतिग्रस्त हुई हैं और साथ में भूस्खलन का खतरा भी बना हुआ है. जिला प्रशासन ने स्थिति को ध्यान में रखते हुए 11 स्कूलों में अवकाश की घोषणा की है.

जाहलमा पुलिस चौकी इंचार्ज की ओर से जिला पुलिस मुख्यालय सूचना दी गई है कि चंद्रभागा नदी पर जसरथ गांव को जोड़ने वाला पुल क्षतिग्रस्त हुआ है और पुल का एक तरफ का पिलर टूट गया है. चंद्रभागा नदी में पानी का लेवल लगातार बढ़ रहा है और पुल से गुजरना खतरे से खाली नहीं है. बता दें कि इससे पहले गुरुवार को एसडीएम और पीडब्ल्यूडी के अफसरों ने मौके का दौरा किया था.

प्रशासन पर लापरवाही बरतने के आरोप

लाहौल से जिला परिषद सदस्य सुदर्शन जस्पा ने लाहौल प्रशासन पर कोताही बरतने का आरोप लगाया है. उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा कि प्रशासनिक और सरकारी लापरवाही का नतीजा, जसरथ पुल का एक हिस्सा गिरने से पुल मुड़ कर गिरने की कगार पर पहुंच गया है. मैंने डीसी साहब से बात कर इस खतरे से आगाह किया था, लेकिन गुरुवार दोपहर एसडीएम लीपापोती कर चले गए, जबकि थोड़े से प्रयास से पुल की तरफ तेज़ी से बढ़ रहे नदी के बहाव को रोका जा सकता था, अब अंततः इसका खामियाजा गांव वालों को भुगतना पड़ेगा.

Tags: Change in weather, Heavy rain alert, Himachal pradesh, Manali

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर