Himachal Weather Update: प्री-मॉनसून से पहले मूसलाधार बारिश, सोलन-चंबा में फटे बादल, गाड़ियां बहीं

सोलन में भारी बारिश के बाद बही गाड़ियां.

Rain in Himachal: कुल्लू की बंजार घाटी में तेज बारिश से बाह्य सराज को जोड़ने वाले औट-आनी-सैंज हाईवे-305 पर लारजी के पास मलबा आ गया. एनएच पर करीब चार बजे से देर शाम तक यातायात ठप रहा.

  • Share this:
    शिमला/चंबा/सोलन. हिमाचल प्रदेश में प्री-मॉनसून से पहले ही जमकर बारिश हो रही है. मंगलवार दोपहर को प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश हुई. चंबा और सोलन में दो जगहों पर बादल फटे और काफी नुकसान हुआ. मंडी, शिमला समेत कई इलाकों में ओले गिरे हैं.

    सोलन जिले में मंगलवार को भारी बारिश हुई. सोलन की अर्की तहसील की ग्राम पंचायत मांगल के कन्धर गांव में बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है. यहां गाड़ियां बह गईं और मलबा मकानों में घुस गया. लोगों ने प्रशासन से राहत मुहैया कराने की मांग की है.

    शिमला में बारिश के बाद निकला इंद्र धनुष.


    चंबा में भारी बारिश, कई स्कूटियां बहीं
    चम्बा के साथ लगते मुगला वार्ड में बादल फट गया. गनीमत यह रही कि यहां पर कोई जानी नुकसान नहीं हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है शाम 4 बजे बारिश होने के बाद एकदम नाले से पानी लोगों के घरों में चला गया. मुगला शिव मंदिर के अंदर बहुत ज्यादा मलबा घुसा है. कई स्कूटी और बाइक पानी में बह गई. नाले में निकासी सही न होने की वजह से लोगों में काफी रोष है. नायब तहसीलदार संदीप ने बताया कि उन्हें फोन पर सूचना मिली कि बारिश का पानी मुगला में लोगों के घरों में घुस गया है. साथ ही गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचा है. उन्होंने बताया कि मुगला शिव मंदिर में भी पानी घुस आया और उसे लोगों ने मलबे को बाहर निकाला है.

    चंबा में स्कूटीज को नुकसान पहुंचा है.


    कुल्लू में हाईवे बंद
    कुल्लू की बंजार घाटी में तेज बारिश से बाह्य सराज को जोड़ने वाला औट-आनी-सैंज हाईवे-305 लारजी के पास पहाड़ी से मलबा आने से बंद हो गया. एनएच करीब चार बजे से देर शाम तक यातायात के लिए ठप रहा. इस कारण सड़क के दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गईं. बिलासपुर जिले में बुधवार दोपहर बाद करीब आधा घंटा जमकर बारिश हुई. बारिश के साथ करीब 10 मिनट तक ओलावृष्टि भी हुई. प्रदेश के मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर और कांगड़ा में गुरुवार से मौसम साफ रहने के आसार हैं. मध्य पर्वतीय जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू, चंबा और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों किन्नौर और लाहौल स्पीति में 5 जून तक मौसम खराब बना रहने का पूर्वानुमान है.

    चंबा में घरों में घुसे मलबे को हटाते लोग.


    कहां कितना रहा तापमान
    ऊना में अधिकतम तापमान 37.0, बिलासपुर में 35.0, हमीरपुर में 34.7, कांगड़ा में  34.5, चंबा में 32.7, सुंदरनगर में 32.8, भुंतर में 31.6, नाहन में 30.0, सोलन में 29.5, धर्मशाला में 26.8, कल्पा में 21.6, शिमला में 21.0, डलहौजी में 19.5 और केलांग में 17.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ. छह जून से पूरे प्रदेश में मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान जताया गया है.