हिमाचल के CM के लिए 5 लाख प्रतिघंटे के किराये पर हायर Mi-171A2 हेलीकॉप्टर की क्या हैं खासियतें?

स्काई वन कंपनी का ये हेलीकॉप्टर (एमआई-171ए2) 24 सीटर है.

स्काई वन कंपनी का ये हेलीकॉप्टर (एमआई-171ए2) 24 सीटर है.

Hiimachal CM Jairam Thakur New Helicopter Controversy: नया हेलीकॉप्टर 5 साल हिमाचल सरकार की सेवा में लीज पर रहेगा. सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने कंपनी के साथ इस हेलीकॉप्टर को लेकर एमओयू किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 2:57 PM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) अगले महीने से अब Mi-171A2 हेलीकॉप्टर (Mi-171A2-Helicopter) का उपयोग करेंगे. रूस से मंगाया गया यह हेलीकॉप्टर दिल्ली पहुंच चुका है और यहां पर इसका ट्रायल होगा. ट्रायल रन के बाद इसका हिमाचल सरकार की सेवाओं के लिए प्रयोग किया जाएगा. वहीं, अब नया हेलीकॉप्टर हायर करने को लेकर हिमाचल में सरकार की ओलाचना होने लगी है. दरअसल, हेलीकॉप्टर का एक घंटे का किराया 5.1 लाख रुपये है. ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि कर्ज में डूबे हिमाचल (Himachal Pradesh) में फिजूलखर्ची क्यों हो रही है?

क्या है हेलीकॉप्टर की खासियत

दरअसल, इस मिडिल क्लास सिविल पैसेंजर Mi-171A2 हेलीकॉप्टर को रूस की मिल मॉस्को हेलीकॉप्टर प्लांट ने बनाया है. पहली बार इस Mi-171A2 हेलीकॉप्टर का प्रयोग साल 2012 में अमेरिका के हेली एक्स्पो में किया गया था. यहां पर Mi-171A2 हेलीकॉप्टर ने अपनी पहली उड़ा भरी थी. यह Mi-171A2 हेलीकॉप्टर Mi-171A1 का अपग्रेड वर्जन है. इसमें ग्लास कॉकपिट के अलावा, एडवांस पावर यूनिट और ट्रांसमिशन है. इसमें रोटर ब्लेड लगाए गए हैं, जो इसकी लाइफ को पांच गुना बढ़ाता है. Mi-171A2 की खासियत है कि यह जंगलों में आगजनी और सर्च ऑपरेशन के अलावा मेडिकल एमरजेंसी में भी उपयोग किया जा सकता है.

ऑल वेदर डिजिटल टीवी और थर्मल इमेज
इसमें ऑल वेदर डिजिटल टीवी और थर्मल इमेज जैसी विशेषताएं हैं. वहीं, Mi-171A2 हेलीकॉप्टर में दो क्र्यू मैंबर के अलावा, 24 यात्री सफर कर रहे हैं. Mi-171A2 हेलीकॉप्टर में दो VK-2500PS-03 इंजन लगाए गए हैं. इस हेलीकॉप्टर की गति 260km/h है. साथ ही यह 13,000kg वजन ले जाने की क्षमता रखता है.

अब हो रहा है विवाद

नया हेलीकॉप्टर 5 साल हिमाचल सरकार की सेवा में लीज पर रहेगा. सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने कंपनी के साथ इस हेलीकॉप्टर को लेकर एमओयू किया है. इससे पहले पवन हंस कंपनी का हेलीकॉप्टर लीज पर था, लेकिन उसके साथ करार खत्म हो गया था. कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश जहां कर्ज में डूब रहा है, वहीं सीएम और मंत्री ऐश-ओ-आराम में डूबे हैं. सरकार की फिजूलखर्ची की वजह से प्रदेश बर्बादी की कगार पर खड़ा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज