HP Board 10th Results: छात्रा को गणित में मिले थे 43 नंबर, शिकायत की तो 100 हो गए

शिमला का पोर्टमोर स्कूल.
शिमला का पोर्टमोर स्कूल.

पेपर शीट्स दोबारा चेक करवाई, तो छात्रा के अंक 43 से 85 हो गए. 15 नंबर इंटरनल असेसमेंट के लिए दिए गए. हालांकि, मामले को शिक्षा विभाग के उच्चधिकारियों को भेजा गया है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल शिक्षा बोर्ड (Himachal Education Board) के दसवीं के एग्जाम में एक छात्रा के पेपर चेकिंग में लापरवाही सामने आई है. अब गलती को दुरुरत किया गया है. मामला शिमला शहर का है. यहां पोर्टमोर गर्ल्स स्कूल (Portmore Girls School Shimla) की छात्रा को एक पेपर में टीचर की चेकिंग का खामियाजा भगुतना पड़ा. छात्रा को गणित के पेपर में 100 में से 43 नंबर दिए गए. बाद में शिकायत की गई तो नंबर बढ़कर 100 कर दिए गए.

जानकारी के अनुसार, दसवीं में पहले घोषित परिणाम में छात्रा शगुन के गणित में 43 अंक थे. इस पर छात्रा को विश्वास नहीं हुआ और उसने प्रिंसिपल से बात की. प्रिंसिपल ने स्कूल शिक्षा बोर्ड से संपर्क किया. बाद में जब अवार्ड एंट्री जांची तो चूक सामने आई. चूक सुधारने पर छात्रा के 43 से 100 अंक हो गए.

स्कूल की टॉपर हुई



पहले शगुन स्कूल की मेरिट में सातवें नंबर पर थी. लेकिन अब पहले स्थान पर आ गई है. इसके अलावा, वह जिले में टॉप टेन में भी शामिल हो गई. शगुन के पुराने परिणाम में उसके 620 अंक थे, जो अब बढ़कर 677 हो गए हैं.
ऐसे हो गए 100 मार्क्स

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि बोर्ड चेयरमैन ने अपनी शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए बिना रिवेल्यूएशन और री-चेकिंग आवेदन के पेपर शीट्स दोबारा चेक करवाई, तो छात्रा के अंक 43 से 85 हो गए. 15 नंबर इंटरनल असेसमेंट के लिए दिए गए. हालांकि, मामले को शिक्षा विभाग के उच्चधिकारियों को भेजा गया है.

ये भी पढ़ें: HP Board 10th results: मंडी के ऑटो चालक की बेटी निशा ने मेरिट में बनाई जगह

ये भी पढ़ें: हिमाचल: IIT मंडी के पास 100 फीट खाई में लुढ़की जीप, 3 युवकों की मौत

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज