• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल विस मॉनसून सत्र: RSS पर टिप्पणी पर सदन में विपक्ष का हंगामा, CM ने भी सुनाई खरी-खरी

हिमाचल विस मॉनसून सत्र: RSS पर टिप्पणी पर सदन में विपक्ष का हंगामा, CM ने भी सुनाई खरी-खरी

हिमाचल विधानसभा के बाहर कांग्रेस विधायक तिरंगा लहराते हुए.

हिमाचल विधानसभा के बाहर कांग्रेस विधायक तिरंगा लहराते हुए.

Himachal Assembly Session: मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि विपक्ष का ये रोज-रोज का व्यवहार बन गया है, ये लोकतांत्रिक व्यवस्था के अनुरूप नहीं है, सदन की मर्यादा अपमानित हो रही है. उन्होंने कहा कि सदन में नोंक-झोंक होती है,तर्क-वितर्क होता है

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मॉनसून सत्र के आठवें दिन सदन में जबरदस्त हंगामा देखने को मिला. मंगलवार दोपहर बाद सदन में आरएसएस पर टिप्पणी मामले और सदन में विपक्षी विधायक जगत सिंह नेगी को अपनी बात नहीं रखने देने के मुद्दे पर बुधवार को भी हंगामा हुआ. सुबह 11 बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई विपक्षी सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया. प्रश्नकाल शुरू होने से पहले ही कांग्रेसी विधायकों ने सत्ता पक्ष को घेरने की कोशिश की. विपक्ष की नारेबाजी से नाराज सत्ता पक्ष ने भी नारेबाजी शुरू कर दी.

बात नहीं रखने देने का आरोप

वन मंत्री राकेश पठानिया और पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर के साथ साथ पूरी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई. सदन में विपक्षी सदस्य को अपनी बात नहीं रखने देने का आरोप लगाते हुए सभी कांग्रेस विधायक नारेबाजी करते हुए वेल में चले गए. वेल में नारेबाजी करते हुए विपक्षी सदस्य सदन के बीच चले गए और सत्ता पक्ष के सामने नारेबाजी शुरू कर दी. आधे घंटे से ज्यादा समय तक ये दौर चला, उसके बाद विपक्षी सदस्यों ने नारेबाजी करते हुए सदन से वॉकआउट किया.

क्या बोली कांग्रेस

इस हंगामे पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि सत्ता पक्ष ने हमारे साथी जगत सिंह नेगी के साथ दुर्व्यवहार किया, उन्हें मारने पर आ गए थे. अग्निहोत्री ने कहा कि ये लोकतंत्र की मूलभावना के खिलाफ है और सदन की परंपरा के खिलाफ है. उन्होंने कहा कि वन मंत्री राकेश पठानिया, पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर, विधायक राजेश ठाकुर और बल्ह से भाजपा विधायक इंद्र सिंह ने दुर्व्यवहार किया, जोकि बर्दाशत नहीं किया जा सकता. साथ ही कहा कि सत्ता पक्ष का आचरण सही नहीं है. उन्होंने कहा कि इन चारों के खिलाफ उचित कार्रवाई के लिए विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखा है, जो सही समय पर स्पीकर के पास पहुंच गया था लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई. नेता प्रतिपक्ष ने विधानसभा अध्यक्ष भूमिका पर भी सवाल खड़े किए.

सीएम ने दिया जवाब

इसके जबाव में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि विपक्ष का ये रोज-रोज का व्यवहार बन गया है, ये लोकतांत्रिक व्यवस्था के अनुरूप नहीं है, सदन की मर्यादा अपमानित हो रही है. उन्होंने कहा कि सदन में नोंक-झोंक होती है,तर्क-वितर्क होता है लेकिन हर रोज बिना बात के 2-3 बार वॉकआउट करना, धमकियां देना सही नहीं है और आज जो आसन के पास जाकर नारेबाजी की गई, टिप्पणियां की गई यहां तक विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ भी नारे लगाए गए, ये आज से पहले कभी नहीं हुआ. विपक्ष के आरोपों पर सीएम ने कहा कि सरकार हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज