डॉ. बिंदल की बनाई BJP कार्यकारिणी को नहीं छेड़ेंगे सुरेश कश्यप, MLA की नाराजगी से इंकार
Shimla News in Hindi

डॉ. बिंदल की बनाई BJP कार्यकारिणी को नहीं छेड़ेंगे सुरेश कश्यप, MLA की नाराजगी से इंकार
हिमाचल भाजपा के नए अध्यक्ष सुरेश कश्यप.

हिमाचल भाजपा 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के शुभारंभ होने पर पूरे प्रदेश में दीपमाला कार्यक्रम करेगी. हर घर में दीये जलाएं जाएंगे. सुरेश कश्यप के लिए बड़े नेताओं के बीच तालमेल बिठाना और नाराजगी दूर करना बड़ी चुनौती रहेगा.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल भाजपा को अब नया सरदार मिल गया है. बीजेपी (BJP) अध्यक्ष के रूप में अपनी ताजपोशी के बाद सुरेश कश्यप पहली बार मीडिया से मुखातिब हुए. शिमला में पीटरहॉफ में प्रेस कांफ्रेस के जरिए सुरेश कयप ने अपनी प्राथमिकताएं गिनाईं. वहीं संगठन को लेकन भी अहम बातें कहीं. हिमाचल भाजपा 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के शुभारंभ होने पर पूरे प्रदेश में दीपमाला कार्यक्रम करेगी. हर घर में दीये जलाएं जाएंगे.

कार्यकारिणी में नहीं होगा कोई बदलाव
कोरोना काल के दौरान बीजेपी अध्यक्ष डा. राजीव बिंदल के इस्तीफे के बाद बीजेपी हैडलेस पार्टी हो गई थी, जिसे अब नया सरदार मिल गया है. सिरमौर जिला से ही सुरेश कश्यप बीजेपी अध्यक्ष बनाए गए हैं. अध्यक्ष बनने के बाद सुरेश कश्यप आज पहली बार मीडिया से मुखातिब हुए. न्यूज 18 से बात करते हुए सुरेश कश्यप ने कहा कि बीजेपी कार्यकारिणी को लेकर स्पष्ट किया कि उसमें किसी प्रकार का बदलाव नहीं होगा. पूर्व अध्यक्ष डॉ. बिंदल ने अच्छे ढंग से कार्यकारिणी बनाई है, जिसमें जरूरत पड़ी तो सबकी सहमति से नए लोग जोड़े जाएंगे. अभी निचले स्तर पर संगठन को खड़ा करने का काम हो रहा है,

नये दायित्व को निष्ठा के साथ निभाउंगा
भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि पार्टी ने नई जिम्मेदारी मुझे सौंपी हैं. नए दायित्व को पूरी निष्ठा के साथ निभाउंगा. बीजेपी ने कोरोना महामारी में बीजेपी के सभी नेताओं ने बढ़चढ़ काम किया. प्रदेश से लेकर पन्ना प्रमुख तक बीजेपी ने विस्तार किया. तकनीक के माध्यम से वर्चुअली भी लोगों को जोड़ा गया है. कोरोना के साथ लंबे समय तक आगे बढ़ना होगा. पार्टी के काम भी इसी के साथ चलेंगे.



पार्टी में नहीं किसी तरह का मनमुटाव
बीजेपी अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने पार्टी के भीत्तर किसी भी प्रकार की नाराजगी से साफ इंकार किया है. उन्होंने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर के साथ मिलकर सभी आगे बढ़ रहे हैं. कोरोना से भी साथ मिलकर लड़ रहे हैं और पार्टी भी आगे बढ़ाऐंगे. विधायक दल की बैठक में कुछ विधायकों के न आने पर सुरेश कश्यप ने कहा कि वह खुद बैठक में उपस्थित थे. जो नहीं आए उनकी पूर्व सूचना थी. गौरतलब है कि रमेश धवाला, डा राजीव बिंदल, नरेंद्र बरागटा, बिक्रम जरियाल सरीखे नेता विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंचे. बताया जा रहा है कि कुछ विधायक मंत्री न बनाए जाने पर नाराज भी हैंय

5 अगस्त को घर में जलाएंगे दिये
हिमाचल भाजपा 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के शुभारंभ होने पर पूरे प्रदेश में दीपमाला कार्यक्रम करेगी. हर घर में दीये जलाएं जाएंगे.
सुरेश कश्यप के लिए बड़े नेताओं के बीच तालमेल बिठाना और नाराजगी दूर करना बड़ी चुनौती रहेगा. 2022 में रिपीट का लक्ष्य लेकर चल रही बीजेपी के लिए यह मनमुटाव दूर करना सबसे जरूरी है. पंचायत और नगर निकाय चुनाव इसका ट्रेलर होगा. बहरहाल देखना यह है कि सुरेश कश्यप आने वाले समय में कैसे संगठन आगे लेकर चलते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading