Home /News /himachal-pradesh /

Himachal Bypoll Result: रोहित ठाकुर का जुब्बल-कोटखाई सीट पर कब्‍जा, बोले- 2022 में बनेगी कांग्रेस की सरकार

Himachal Bypoll Result: रोहित ठाकुर का जुब्बल-कोटखाई सीट पर कब्‍जा, बोले- 2022 में बनेगी कांग्रेस की सरकार

कांग्रेस प्रत्‍याशी रोहित ठाकुर ने जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट पर 6293 वोट जीत दर्ज की है.

कांग्रेस प्रत्‍याशी रोहित ठाकुर ने जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट पर 6293 वोट जीत दर्ज की है.

Jubbal-Kotkhai Assembly Result: कांग्रेस प्रत्‍याशी रोहित ठाकुर (Rohit Thakur) ने जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट पर 6293 वोट से कब्‍जा कर लिया है. इस सीट पर निर्दलीय प्रत्‍याशी चेतन बरागटा करीब 24 हजार वोट के साथ दूसरे नंबर पर रहे, तो भाजपा की नीलम सरैइक की जमानत जब्‍त हो गयी है. वहीं, जीत के बाद कांग्रेस प्रत्‍याशी ने कहा कि यह जुब्बल-कोटखाई की जनता के संघर्ष और परिश्रम की जीत. हमारी इस जीत ने भाजपा और जय राम सरकार को स्पष्ट संदेश दे किया है कि 2022 में हिमाचल में कांग्रेस की सरकार बनेगी.

अधिक पढ़ें ...

    शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Bypoll Result) के शिमला जिले के जुब्बल-कोटखाई विधानसभा उपचुनाव (Jubbal-Kotkhai Assembly) पर कांग्रेस प्रत्‍याशी रोहित ठाकुर (Rohit Thakur) ने 6293 वोट से कब्‍जा कर लिया है. भाजपा की नीलम सरैइक की जमानत जब्‍त हो गई, तो आजाद प्रत्याशी चेतन बरागटा (Chetan bragta) ने करीब 24 हजार वोट हासिल करते हुए अपना दम दिखाया है. वहीं, कांग्रेस प्रत्‍याशी ने जीत के बात न्‍यूज़ 18 से बात करते हुए कहा,’जनता ने साफ कर दिया है कि 2022 में कांग्रेस की सरकार बनेगी.

    वहीं, जीत हासिल करने के बाद कांग्रेस प्रत्‍याशी रोहित ठाकुर ने कहा कि यह जुब्बल-कोटखाई की जनता के संघर्ष और परिश्रम की जीत. हमारी इस जीत ने भाजपा और जय राम सरकार को स्पष्ट संदेश दे किया है कि 2022 में हिमाचल में कांग्रेस की सरकार बनेगी. बता दें कि कांग्रेस के रोहित ठाकुर ने तीसरी बार यहां से जीत दर्ज की है. वह इससे पहले 2003 और 2012 में कोटखाई से विधायक रहे हैं.

    चेतन बरागटा ने बिगाड़ा भाजपा को खेल
    जुब्बल-कोटखाई विधानसभा उपचुनाव में आजाद प्रत्याशी चेतन बरागटा ने भाजपा का खेल बिगाड़ दिया, जो कि टिकट नहीं मिलने पर बागी रूख अपनाते हुए मैदान में उतर गए थे. इसी वजह से भाजपा प्रत्याशी नीलम सरैइक को करारी हार नसीब हुई है. यही नहीं, वह अपनी जमानत भी नहीं बचा पाई हैं. उनको सिर्फ 2644 वोट मिल सके. भाजपा को यहां तीन हजार से भी कम वोट मिले हैं. बरागटा ने 23,662 वोट हासिल किए हैं. जबकि कांग्रेस के रोहित ठाकुर ने करीब 30 हजार (29,955) वोट हासिल करते हुए 6293 वोट से जीत दर्ज की है.बता दें कि यहां पर कुल 56 हजार के करीब पोलिंग हुई थी.

    कांग्रेस का गढ़ रही है सीट
    यह सीट कांग्रेस का गढ़ मानी जाती है. बीते 1951 से अब तक हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने दस बार इस सीट पर कब्जा जमाया है. कांग्रेस के रामलाल ठाकुर यहां से सबसे ज्यादा 6 बार विधायक रहे हैं. वहीं, उनके पोते रोहित ठाकुर ने 2012 में यहां से चुनाव लड़ा था. रोचक बात यह है कि इस सीट पर 1990 के चुनाव में वीरभद्र सिंह को रामलाल ठाकुर के हाथों हार मिली थी.

    भाजपा के खाते में दो बार यह सीट गई है. नरेंद्र बरागटा यहां से दो बार विधायक रहे हैं. वहीं, जनता दल ने 1990 में एक बार यह सीट जीती थी. 13 बार इस सीट पर चुनाव हुए और 10 मर्तबा कांग्रेस को यहां से जीत मिली है. 1990, 2007 और 2021 के चुनाव को छोड़ दें तो बाकी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने इस सीट पर कब्जा जमाया है.

    Tags: BJP, Himachal Congress, Himachal news, Himachal Politics, Himachal pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर