होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /हिमाचल कैबिनेट: प्री प्राइमरी शिक्षकों की भर्ती को मंजूरी, डिपुओं में तेल पर सब्सिडी दोगुना

हिमाचल कैबिनेट: प्री प्राइमरी शिक्षकों की भर्ती को मंजूरी, डिपुओं में तेल पर सब्सिडी दोगुना

 हिमाचल प्रदेश मंत्रिमण्डल के निर्णय.

हिमाचल प्रदेश मंत्रिमण्डल के निर्णय.

मंत्रिमंडल ने शिमला जिले के बलदेयां, बिलासपुर जिले के तलाई और शिमला जिले के कोटी में तीन नई उप तहसीलें खोलने तथा विभिन् ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

रिपोर्ट- कपिल देव

शिमला. मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आज यहां प्रदेश मंत्रिमण्डल की बैठक में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अन्तर्गत राजकीय प्राथमिक विद्यालयों में 3 से 6 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के लिए हिमाचल प्रदेश आरम्भिक बाल्यावस्था देखभाल एवं शिक्षक योजना-2022 को स्वीकृति प्रदान की गई. योजना के अन्तर्गत छोटे बच्चों का स्वस्थ मानसिक विकास सुनिश्चित करने के दृष्टिगत आरम्भिक वर्षों में उनके मस्तिष्क की उचित देखभाल एवं प्रोत्साहन की परिकल्पना की गई है. साथ ही सामाजिक-आर्थिक रूप से सुविधाओं से वंचित जिलों और क्षेत्रों को विशेष प्राथमिकता प्रदान की जाएगी. जिन अभ्यर्थियों ने नर्सरी टीचर एजुकेशन/प्री स्कूल एजुकेशन/पूर्व बाल्यकाल शिक्षा कार्यक्रम में एक वर्ष का डिप्लोमा किया है, उन अभ्यर्थियों की योग्यता में मापदण्डों के अनुसार पात्र बनाने के लिए विभाग ब्रिज पाठ्यक्रम तैयार करेगा. इसके अन्तर्गत शिक्षक को प्रतिमाह 9000 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी.

मंत्रिमण्डल ने खाद्य तेलों पर अनुदान दोगुना करने को स्वीकृति प्रदान की. इसके अन्तर्गत सितम्बर, 2022 से मार्च 2023 तक सात महीनों के लिए खाद्य तेल (फोर्टिफाइड सरसों का तेल और फोर्टिफाइड सोया रिफांइड तेल) पर ओटीएनएफएसए लाभार्थियों को 5 रुपये से बढ़ाकर 10 रुपये प्रति लीटर और एनएफएसए के लाभार्थियों को 10 रुपये से बढ़ाकर 20 रुपये प्रति लीटर अनुदान प्रदान किया जाएगा. बैठक में सोलन जिला के 50 बिस्तर की क्षमता वाले नागरिक अस्पताल धर्मपुर में चिकित्सकों के तीन पद, पैरा मेडिकल स्टाफ के दो पद और नर्सों के छः पद सृजित करने का भी निर्णय लिया गया. बैठक में मण्डी जिला की धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के टॉरखोला में नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने तथा आवश्यक पदों के सृजन का निर्णय लिया गया.

मंत्रिमंडल ने शिमला जिले के बलदेयां, बिलासपुर जिले के तलाई और शिमला जिले के कोटी में तीन नई उप तहसीलें खोलने तथा विभिन्न श्रेणियों के 12-12 पदों के सृजन और भरने को स्वीकृति प्रदान की. साथ ही कांगड़ा जिले के नागरिक अस्पताल ज्वाली की क्षमता 50 से बढ़ाकर 100 बिस्तर के अस्पताल के रूप में स्तरोन्नत करने और आवश्यक पदों को भरने का भी निर्णय लिया गया. इसी प्रकार मण्डी जिले के नागरिक अस्पताल गोहर को भी 50 बिस्तरों से स्तरोन्नत कर 100 बिस्तरों वाले अस्पताल के साथ-साथ आवश्यक पदों के सृजन और भरने को भी मंजूरी दी गई. मण्डी जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र चौक को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने का भी निर्णय लिया गया.

मंत्रिमंडल ने शिमला जिले के पीरन स्थित पशु औषधालय को विभिन्न श्रेणियों के तीन पदों के सृजन एवं भरने के साथ पशु चिकित्सालय में स्तरोन्नत करने का निर्णय लिया। बैठक में शिमला जिले के कसुम्पटी विधानसभा क्षेत्र के नाला गांव में आवश्यक पदों के सृजन और भरने के साथ नया पशु औषधालय खोलने का भी निर्णय लिया गया. मंत्रिमंडल ने मण्डी जिले की संधोल तहसील के कुज्जाबल्ह में विभिन्न श्रेणियों के 26 पदों के सृजन एवं भरने के साथ-साथ नया औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने को भी स्वीकृति प्रदान की. बैठक में मण्डी जिले के धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में टिहरा और चोलथरा के बीच एक नया राजकीय बहुतकनीकी संस्थान खोलने और विभिन्न श्रेणियों के 42 पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। बी फार्मेसी कोर्स को भी शामिल किया जा सकता है.

मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिले के  विधानसभा क्षेत्र में जल शक्ति विभाग का नया मण्डल खोलने और आवश्यक पदों को सृजित कर भरने को अपनी स्वीकृति प्रदान की. साथ ही ऊना जिले के बसाल में कृषि विषय वाद् विशेषज्ञ का कार्यालय खोलने और विभिन्न श्रेणियों के छह पदों के सृजन एवं भरने को भी स्वीकृति प्रदान की गई. मंत्रिमण्डल ने हिमाचल प्रदेश में सड़क एवं अन्य ढांचागत विकास निगम के लिए विश्व बैंक द्वारा वित्तपोषित परियोजनाओं के घटक के अनुसार परिवहन विभाग के सुदृढ़ीकरण के लिए हिमाचल प्रदेश मोटर वाहन प्रशासन की स्थापना को स्वीकृति प्रदान की, जो सभी नागरिक सेवाओं के लिए वन-स्टॉप सेंटर होगा और नागरिकों के परिवहन संबंधी सभी आवश्यक अनुरोधों जैसे पंजीकरण, लाइसेंस, उत्सर्जन नियंत्रण, वाहन परीक्षण आदि को पूरा करेगा.

मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिले के विकास खण्ड बालीचौकी में कृषि विषय वाद् विशेषज्ञ का कार्यालय खोलने और विभिन्न श्रेणियों के छः पदों के सृजन एवं भरने को भी स्वीकृति प्रदान की. मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला के धर्मपुर में अग्निशमन उप केन्द्र खोलने और आवश्यक पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की. साथ ही मण्डी जिला के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला तुलाह और घराण में विज्ञान कक्षाएं आरम्भ करने और आवश्यक पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की गई.

मण्डी जिले की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सेरी और सधोट में विज्ञान और वाणिज्य कक्षाएं आरम्भ करने का निर्णय लिया गया. मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला की राजकीय प्राथमिक पाठशाला मन्दोह, सिरमौर जिले की राजकीय प्राथमिक पाठशाला लाना मोही, कांगड़ा जिला की राजकीय प्राथमिक पाठशाला लोट को राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने तथा आवश्यक पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की. साथ ही हमीरपुर जिला की राजकीय उच्च पाठशाला लुद्दर को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला तथा राजकीय माध्यमिक पाठशाला खतरवाड़ तथा नगरोटा गजियां को राजकीय उच्च पाठशाला में स्तरोन्नत करने तथा विभिन्न श्रेणियों के 22 पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की.

बिलासपुर जिला के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कोसरियां और सलवाड़ में विज्ञान कक्षाएं आरम्भ करने का निर्णय लिया गया. मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिले की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशााल कुहना में वाणिज्य कक्षाएं, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गियोरा में विज्ञान कक्षाएं तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला धनेटी में विज्ञान और वाणिज्य कक्षाएं आरम्भ करने को स्वीकृति प्रदान की. कांगड़ा जिले के नूरपुर, देहरा और पालमपुर में तथा सिरमौर जिला के पांवटा साहिब, शिमला जिला के रोहड़ू में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायालय स्थापित करने तथा प्रत्येक न्यायालय में विभिन्न श्रेणियों के 13 पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की गई.

Tags: Himachal news, Shimla News

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें