Himachal Cabinet Meeting: नई बंदिशे नहीं, लॉकडाउन का फैसला DCs पर छोड़ा

हिमाचल में लॉकडाउन नहीं लगेगा.

हिमाचल में लॉकडाउन नहीं लगेगा.

Corona Virus in Himachal Pradesh: राज्य सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि सोशल मीडिया पर प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू लगाए जाने संबंधी समाचार प्रसारित किया जा रहा है, जो आधारहीन है. उन्होंने स्पष्ट किया कि अभी तक राज्य में रात्रि कफ्र्यू नहीं लगाने का कोई निर्णय नहीं लिया गया है और यह समाचार तथ्यों पर आधारित नहीं है.

  • Share this:
शिमला. कोरोना (Corona Virus) के बढ़ते मामलों के बीच हिमाचल प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में गुरुवार को प्रदेश में कोई नई बंदिशे नहीं लगाई गई हैं. नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) से लेकर धारा 144 और लॉकडाउन (Lockdown) का फैसला जिलों के डीसी पर छोड़ा गया है. कोई फैसला लेने से पहले उपायुक्तों को राज्य सरकार से अनुमति लेनी होगी. कैबिनेट मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बैठक में हुए फैसलों के बारे में जानकारी दी. बैठक में कोरोना की स्थिति की भी समीक्षा की गई. सरकार ने फैसला किया है कि 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग के लोगों को सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में मुफ्त टीका लगाया जाएगा. कोरोना का ये टीकाकरण अभियान एक मई से शुरू होगा.

साथ ही फैसला लिया गया कि होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड-19 रोगियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के लिए ब्लॉक स्तर पर मोबाइल टीमें गठित की जाएंगी. जिन मरीजों की हालत ज्यादा खराब है, उन्हे अस्ताल में शिफ्ट करने के लिए एक गाड़ी विशेष रूप से दी जाएगी. हरेक मेडिकल कॉलेज में कोविड-19 मामलों की निगरानी के लिए सीनियर डॉक्टर्स की टीम हर वक्त तैनात रहेगी. कैबिनेट ने महामारी के दौरान अपनी सेवाएं दे रहे आउटसोर्स कर्मचारियों को प्रति शिफ्ट 200 रुपये की प्रोत्साहन राशि देने का भी फैसला किया है. साथ ही होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों को पौष्टिक आहार दिया जाएगा. इसको लेकर एक न्यूट्रीशन किट भी दी जाएगी.

कहां-कहां कितने मामले

हिमाचल में बीते बीते 24 घंटों में कोरोना (Corona) के 1774 नए केस मिले हैं. वहीं 18 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है. इसके साथ ही 689 लोग कोरोना से ठीक भी हुये हैं. नये आंकड़ों के अनुसार अब राज्य में कोरोना के कुल एक्टिव केसों की संख्या 11 हजार 859 हो गई है. वहीं प्रदेश में अब तक कोरोना से 1241 लोगों की जान जा चुकी है. राज्य में कोरोना के सबसे ज्यादा 449 मामले कांगड़ा से सामने आए हैं. हमीरपुर में 201, सोलन 189, शिमला और मंडी में 188-188, ऊना में 163, बिलासपुर 119, सिरमौर में 110, कुल्लू में 87, चम्बा में 38 कोरोना संक्रमित मिले हैं. पिछले 24 घंटे में 18 लोगों की मौत हो गई है. मंडी जिले में 16 वर्षीय युवक की मौत हुई है. वहीं कांगड़ा में 5 लोग मरे हैं. सिरमौर, शिमला और हमीरपुर जिले में 2-2 मौत के अलावा बिलासपुर में 31 वर्षीय युवक की मौत हुई है.
एक माह का वेतन दान

बैठक में सीएम और और मंत्रिमण्डल के सदस्यों ने बैठक के दौरान मुख्यमंत्री कोविड फंड के लिए अपने एक माह के वेतन का अंशदान किया. मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने मुख्य सचिव अनिल खाची को चेक भेंट किए. कोरोना पॉजिटिव होने के चलते उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर बैठक में हिस्सा नहीं ले पाए.

सोशल मीडिया की खबरों का खंडन



राज्य सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि सोशल मीडिया पर प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू लगाए जाने संबंधी समाचार प्रसारित किया जा रहा है, जो आधारहीन है. उन्होंने स्पष्ट किया कि अभी तक राज्य में रात्रि कफ्र्यू नहीं लगाने का कोई निर्णय नहीं लिया गया है और यह समाचार तथ्यों पर आधारित नहीं है. केवल कांगड़ा में जिला प्रशासन ने जिले में कोविड-19 के मामलों में तेजी से हुई वृद्धि के दृष्टिगत कुछ रात्रि प्रतिबंध लगाए हैं. प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश सरकार की फिलहाल राति को कर्फ्यू लगाने की योजना नहीं है. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन सम्बन्धित जिलों में कोविड-19 के मामलों में तीव्र वृद्धि होने की स्थिति में राज्य सरकार से परामर्श के उपरांत रात्रि कर्फ्यू लगाने पर अंतिम फैसला ले सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज