लाइव टीवी

Himachal Statehood Day: कल 49 साल का हो जाएगा ‘मेरा हिमाचल’
Shimla News in Hindi

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 24, 2020, 6:21 PM IST
Himachal Statehood Day: कल 49 साल का हो जाएगा ‘मेरा हिमाचल’
हिमाचल की राजधानी शिमला.

Himachal Statehood Day: हिमाचल का शाब्दिक अर्थ है बर्फीले पहाड़ों का आंचल.हिमाचल को देवभूमि और वीरभूमि भी कहा जाता है. जब-जब देश पर संकट आया है यहां के जवानों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है.

  • Share this:
शिमला. 25 जनवरी 1971 का दिन…राजधानी शिमला (Shimla) में भारी बर्फबारी (Snowfall) हो रही थी. सब लोग टकटकी लगाए खड़े थे. सभी लोगों को बेसब्री से इंतजार था, ऐतिहासिक क्षण का. बर्फ के फाहों के बीच जैसे ही प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Prime Minister Indira Gandhi) ने हिमाचल प्रदेश को पूर्ण राज्य का दर्जा प्रदान करने का ऐलान किया, ठंडी (Cold फिजाओं में गर्माहट आ गई और लोग खुशी से झूम उठे. इसलिए 25 जनवरी की तारीख हिमाचल के लिये बेहद खास है. क्योंकि इसी दिन हिमाचल को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला और हिमाचल आजाद भारत (India) का 18 वां राज्य बना.

राजधानी शिमला का ऐतिहासिक रिज मैदान.
राजधानी शिमला का ऐतिहासिक रिज मैदान.


चार जिले बनाए गए
15 अप्रैल 1948 को 30 छोटी-बड़ी रियासतों और ठकुराइयों को मिलाकर हिमाचल का गठन किया गया था. राज्य में कुल 4 जिले बनाए गए. 1951 में इसे ‘सी कैटेगरी’ स्टेट का दर्जा प्रदान किया गया. 1 जुलाई 1952 को बिलासपुर को 5वें जिले के रूप में शामिल किया गया. साल 1956 में सी कैटेगरी स्टेट का दर्जा समाप्त होते ही हिमाचल को केंद्र शासित राज्य के रूप में पहचान मिली. एक नवंबर 1966 को पंजाब पुनर्गठन के समय पंजाब के कुल्लू, कांगड़ा, हमीरपुर, नालागढ़, कसौली, लाहौल-स्पीती, डलहौजी, ऊना और शिमला के क्षेत्र हिमाचल में शामिल कर हिमाचल अस्तित्व में आया. इसके बाद 25 जनवरी 1971 को हिमाचल को पूर्ण राज्य का दर्जा प्रदान किया गया.

 शिमला की ऐतिहासिक चर्च.
शिमला की ऐतिहासिक चर्च.


कांगड़ा जिला दो भागों में बंटा
एक सितंबर 1972 को कांगड़ा जिला दो भागों में बंटा. ऊना और हमीरपुर के रूप में दो नए जिलों का उदय हुआ. इसी वर्ष महासू जिला से शिमला और सोलन जिला बनाए गए. वर्तमान में करीब 70 लाख आबादी वाले हिमाचल प्रदेश में 12 जिले हैं. राज्य का कुल क्षेत्रफल 55,673 वर्ग किलोमीटर है. क्षेत्रफल के अनुसार हमीरपुर सबसे छोटा और लाहौल स्पीति सबसे बड़ा जिला है. राज्य की 90 फीसदी आबादी गांवों में बसती है. हिमाचल 1 लाख 76 हजार 968 रूपये प्रति व्यक्ति आय के साथ प्रगति के पथ पर अग्रसर है और 7 दशमलव 3 प्रतिशत विकास दर है, जो राष्ट्रीय विकास दर से ज्यादा है. लेकिन हिमाचल के लोग चाहते हैं कि हिमाचल इससे ज्यादा तरक्की करे. युवाओं को रोजगार मिले.

अब तक छह सीएम देखे
हिमाचल प्रदेश ने अपनी स्थापना से लेकर अब तक छह मुख्यमंत्रियों को देखा है. प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री बनने का गौरव डॉ. यशवंत सिंह परमार को मिला, जिन्हें हिमाचल निर्माता के नाम से भी पुकारा जाता है. डॉ. यशवंत सिंह परमार वर्ष 1976 तक हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे. उनके बाद ठाकुर राम लाल मुख्यमंत्री बने और प्रदेश की बागडोर संभाली. वर्ष 1977 में प्रदेश में जनता पार्टी चुनाव जीती और शांता कुमार मुख्यमंत्री बने. वर्ष 1980 में ठाकुर राम लाल फिर मुख्यमंत्री की कुर्सी पर विराजमान हो गए. 8 अप्रैल 1983 को उनके स्थान पर मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को बनाया गया. साल 1998 में पहली बार प्रो. प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री बने. अब जयराम ठाकुर पहली बार बतौर मुख्यमंत्री प्रदेश की बागडोर संभाल रहे हैं. हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल को 50 साल होने जा रहे हैं. इस पूरी विकास यात्रा में पूरे प्रदेश का अहम योगदान रहा है. इस साल गोल्डन जुबली समारोह के तहत सालभर कुछ न कुछ कार्यक्रम करेंगे.

शिमला में रिज पर लगी सूबे के पहले सीएम डॉ. यशवंत सिंह परमार की मूर्ति.
शिमला में रिज पर लगी सूबे के पहले सीएम डॉ. यशवंत सिंह परमार की मूर्ति.


सूबे के सामने कई चुनौतियां
हिमाचल का शाब्दिक अर्थ है बर्फीले पहाड़ों का आंचल.हिमाचल को देवभूमि और वीरभूमि भी कहा जाता है. जब-जब देश पर संकट आया है यहां के जवानों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है. पूर्ण राज्य का दर्जा मिलने के बाद हिमाचल ने दिनों-दिन तरक्की की है. लेकिन कुछ चुनौतियां आज भी बरकरार हैं. युवाओं को रोजगार, शिक्षा, सड़क, स्वास्थ्य, नशा मुक्ति और पीने का शुद्ध पानी आज बड़ी चुनौतियां है. इनसे पार पाकर ही हिमाचल निर्माता परमार के सपनों को साकार किया जा सकता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 24, 2020, 5:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर