Home /News /himachal-pradesh /

COVID-19 पर हिमाचल कांग्रेस MLA विक्रमादित्य ने RSS पर साधा निशाना, बाद में डिलीट की पोस्ट

COVID-19 पर हिमाचल कांग्रेस MLA विक्रमादित्य ने RSS पर साधा निशाना, बाद में डिलीट की पोस्ट

कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह.

कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह.

Congress MLA Vikramditya Singh Attacks RSS: विक्रमादित्य ने अपने पेज पर लिखा था- सही को सही और गलत को गलत कहना हमारा दायित्व है. नीचे लिखा- “इतिहास की सबसे भीषण आपदा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ लापता.–विक्रमादित्य सिंह.”

शिमला. हिमाचल प्रदेश के छह बार के सीएम रहे वीरभद्र सिंह  (Virbhadra Singh) के बेटे और कांग्रेस  (Congress) विधायक विक्रमादित्य सिंह (Vikramditya Singh) इन दिनों चर्चा में हैं. सोशल मीडिया पर अपने बयानों को लेकर विक्रमादित्य सिंह खूब सुर्खियां बटौर रहे हैं. एक और जहां कुछ मामलों में उनकी तारीफ हो रही है, वहीं कुछ में वह लोगों के निशाने पर भी रहे हैं. ताजा मामले में विक्रमादित्य ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट में राष्ट्रीय स्वयंसेव संघ (RSS) पर निशाना साधा था, मगर बाद में उन्होंने इसे डिलीट कर दिया. लोग अब पोस्ट के स्क्रीनशॉट शेयर कर रहे हैं और सवाल पूछ रहे हैं.

विक्रमादित्य सिंह ने क्या लिखा
विक्रमादित्य ने अपने पेज पर लिखा था- सही को सही और गलत को गलत कहना हमारा दायित्व है. नीचे लिखा- “इतिहास की सबसे भीषण आपदा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ लापता.–विक्रमादित्य सिंह.” लेकिन सही को सही और गलत को गलत कहने का दावा करने वाले विक्रमादित्य का यह पोस्ट अब उनके फेसबुक पेज से गायब है. इसे लेकर लोग विक्रमादित्य पर निशाना साध रहे हैं.

विक्रमादित्य सिंह ने यह पोस्ट बाद में डिलीट कर दी.


क्यों चर्चा में हैं विक्रमादित्य सिंह
विक्रमादित्य सिंह ने हाल ही में 5 लाख रुपये पर हेलीकॉप्टर हायर करने को लेकर हुए विवाद में सरकार का समर्थन किया था. पार्टी लाइन से हटकर विक्रमादित्य ने इस हेलीक़ॉप्टर को जरूरत बताया था.

विक्रमादित्य सिंह ने लॉकडाउन लगाने की मांग की है.


वहीं, इसके बाद विक्रमादित्य सिंह ने फेसबुक के जरिये पोस्ट कर कोरोना के बढ़ते मामलों पर सरकार से लॉकडाउन लगाने की मांग की थी.

Tags: Congress, Corona virus cases, Shimla

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर