लाइव टीवी

Covid-19 Bulletin: यहां पढ़िये, हिमाचल में 24 घंटे में क्या-क्या हुआ
Shimla News in Hindi

News18 Himachal Pradesh
Updated: March 26, 2020, 10:55 AM IST
Covid-19 Bulletin: यहां पढ़िये, हिमाचल में 24 घंटे में क्या-क्या हुआ
हिमाचल में कोरोना वायरस के तीन मामले. (सांकेतिक तस्वीर)

Corona virus in Himchal: बुधवार को सरकार ने डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ की रिटायरमेंट अवधि बढ़ा दी है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में बीते चौबीस घंटे में कोरोना वायरस (Corona Virus) का कोई मामला सामने नहीं आया है. प्रदेश में अब शुरुआती तौर पर ही तीन संदिग्ध ही मिले हैं. बुधवार को मंडी के दस सैंपल नेगेटिव आए हैं. इसके अलावा, शिमला के आईजीएमसी (IGMC) अस्पताल में दस सैंपल कि गए हैं, जो सभी नेगेटिव आए हैं.

सूबे में अब तक इतने टेस्ट
शिमला के IGMC के मुख्य वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जनक राज ने यह जानकारी दी है. वहीं, शिमला के डीडीयू अस्पताल में संदिग्ध 14 मरीजों में से 8 मरीजों को छुट्टी दी गई है. अस्पताल में भर्ती सभी 14 संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है. मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. जितेंद्र चौहान ने यह जानकारी दी है. वहीं, मंडी के नेरचौक में सभी दस मामलों के सैंपल नेगेटिव आए हैं. हिमाचल में अब तक 99 सैंपल लिए गए हैं, जिनमें 96 नेगेटिव और तीन प़ॉजिटिव पाए गए हैं. सूबे में बुधवार को कुल 26 सैंपल लिए गए थे. सभी की रिपोर्ट नेगेटिव है.

शिमला में कर्फ्यू तोड़ने पर कार्रवाई



शिमला में कर्फ्यू तोड़ने वाले लोगों पर पुलिस ने कार्रवाई की. इस संबंध में 21 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई है. ये लोगल बिना वजह सड़कों पर घुम रहे थे. फिलहाल, किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है. शिमला एसपी ओमापति जम्वाल ने की मामलों की पुष्टि की है. सूबे में कर्फ्यू लगने के बाद से 83 मामले दर्ज हुए हैं. सबसे अधिक मामले मंडी जिले में दर्ज हुए हैं.

पुलिस कर्मियों से मारपीट
वहीं, कुछ इलाकों में पुलिस की सख्ती उसी पर भारी पड़ी है. सिरमौर के रोनहाट में कर्फ्यू के दौरान दो पुलिस कर्मियों से मारपीट की गई है. इसके अलावा, किन्नौर में तीन पुलिस वालों से मारपीट की गई है. हिमाचल में जरूरी चीजों की खरीदारी के लिए सभी 12 जिलों में कर्फ्यू में ढील देने की टाइमिंग जारी की गई है. शिमला में गुरुवार को तीन दिन बाद बाजार खुले हैं.

पैरामेडिकल स्टाफ की रिटायरमेंट अवधि बढ़ाई
बुधवार को सरकार ने डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ की रिटायरमेंट अवधि बढ़ा दी है. स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आरडी धीमान के आदेशों के अनुसार, जो चिकित्सा अधिकारी और पैरामेडिकल कर्मचारी 31 दिसंबर, 2017 से 29 फरवरी, 2020 की अवधि में सेवानिवृत्त हुए हैं, उनको भी अंतिम पद पर 1 अप्रैल, 2020 से आगामी आदेशों तक पुनर्रोजगार दिया जाएगा. इसके अलावा सरकार निजी अस्पतालों को भी अंडरटेक कर सकती है. निजी अस्पतालों को आदेश दिए हैं कि वह अपने स्टाफ को छुट्टी पर न भेजें. सीएम ने बुधवार को मुख्य सचिव समेत अफसरों से समीक्षा बैठक की है.

चारों सांसद ने दिए 2 करोड़ 27 लाख रुपये
हिमाचल प्रदेश से चारों लोकसभा सांसदों ने कोरोना वायरस (Corona Virus) से लड़ने के लिए सांसद निधि (MP Fund) से 2 करोड़ 27 लाख रुपये दिए हैं. सूबे से चारों भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसदों ने कोरोना वायरस को लेकर गंभीरता दिखाई और सांसद निधि से अपने अपने संसदीय क्षेत्र में मास्क, सेनेटाइजर, वेंटिलेटर एवं इक्विपमेंट खरीदने के लिए दी राशि प्रदान की है. वहीं, हिमाचल सरकार ने वायरस से लड़ने के लिए कोविड फंड भी बनाया है. इसके लिए सुंदरनगर और बल्ह से विधायक ने एक माह का वेतन इस फंड में दान किया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 10:15 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर