पुण्य कमाएगी हिमाचल सरकार! गौसरंक्षण के लिए शराब-मंदिर से जुटाए 12 करोड़

जानकारी के अनुसार, हिमाचल में 22 हजार बेसहारा पशु हैं, जो सड़कों पर घूम रहे हैं. 1 अगस्त से ऊना से पशुपालन मंत्री अपने गृह जिला ऊना से इन पशुओं को गौशालाओं में भेजने का काम का आगाज करेंगे. ऊना में 18 गोशालाएं बनाई गई है.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 24, 2019, 12:21 PM IST
पुण्य कमाएगी हिमाचल सरकार! गौसरंक्षण के लिए शराब-मंदिर से जुटाए 12 करोड़
हिमाचल में 22 हजार के करीब बेसहारा गाय हैं.
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 24, 2019, 12:21 PM IST
हिमाचल सरकार ने गाय के नाम पर शराब और मंदिरों पर सैस लगाकर 12 करोड़ रुपये की रकम जुटा ली है. बीते साल बजट घोषणा में गौ सेवा आयोग गठित करके लावारिस और आवारा पशुओं को सहारा देने के लिए शराब पर प्रति बोतल 1 रुपये सैस लगाया गया था, जबकि मंदिरों को अपनी कमाई का 15 प्रतिशत सरकार को देने जरूरी किया गया था.

एक साल में सरकार के पास मंदिरों से करीब 4 करोड़, जबकि शराब से करीब-करीब आठ करोड़ रुपये जुट गए हैं. ऐसे में पशुपालन विभाग ने इसकी पूरी जानकारी आबकारी एवं कराधान विभाग और कला संस्कृति विभाग से मांगी है. साथ ही एक सप्ताह के भीतर राशि को जारी करने के भी निर्देश दिए हैं. पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने इसकी पुष्टि की है.

तीन काउ सेंक्चुरी बनवाएगी सरकार
पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि सरकार इस पैसे से तीन काऊ सेंक्चुरी और गौसदनों का निर्माण करेगी. साथ ही आवारा पशुओं को पकड़कर काऊ सेंक्चुरी तक ले जाने के अलावा चारा भी खरीदा जाएगा. हिमाचल में पहली बार आवारा पशुओं से निजात पाने के लिए सरकार ने नई व्यवस्था की है. ऊना, मंडी और कांगड़ा में ये काऊ सेंक्चुरीज बननी हैं. इसके लिए प्रक्रिया शुरू हो गई है.

बजट में हुई थी घोषणा
हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर ने 2018-19 के बजट भाषण में इस योजना की घोषणा की थी. लेकिन सरकार ने इस पैसे को कहीं खर्च नहीं किया है. सीएम जयराम ठाकुर की पहले बजट में घोषणा के तहत शराब की हर बोतल से 1 रुपए सैस और मंदिरों के चढ़ावे का 15 फीसदी गोवंश संरक्षण के लिए लिया जाएगा.

हिमाचल में 22 हजार बेसहारा पशु
Loading...

जानकारी के अनुसार, हिमाचल में 22 हजार बेसहारा पशु हैं, जो सड़कों पर घूम रहे हैं. 1 अगस्त से ऊना से पशुपालन मंत्री अपने गृह जिला ऊना से इन पशुओं को गौशालाओं में भेजने का काम का आगाज करेंगे. ऊना में 18 गोशालाएं बनाई गई है.

ये भी पढें: शिमला के होटल और ज्वैलर कारोबारी से 10 करोड़ रंगदारी मांगी

मंडी में सेक्स रैकेट: मकान मालिक तक पहुंची जांच की आंच

अवैध खनन पर SP की आधी रात को दबिश, 6 गिरफ्तार, 8 टिप्पर जब्त

शिमला के हैरिटेज म्यूजियम व रीगल बिल्डिंग की दरकी दीवारें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 24, 2019, 11:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...