होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /सिप्पी सिद्धू हत्याकांड में बड़ा एक्शनः हिमाचल हाईकोर्ट के जज की बेटी गिरफ्तार

सिप्पी सिद्धू हत्याकांड में बड़ा एक्शनः हिमाचल हाईकोर्ट के जज की बेटी गिरफ्तार

35 साल के सिप्पी की लाश 20 सितंबर 2015 को चंडीगढ़ में सेक्टर-27 के एक पार्क से मिली थी.

35 साल के सिप्पी की लाश 20 सितंबर 2015 को चंडीगढ़ में सेक्टर-27 के एक पार्क से मिली थी.

Chandigarh Sippy Sidhu Murder Case: सिप्पी सिद्धू के परिवार की डिमांड और चौतरफा दबाव के बाद 20 जनवरी, 2016 को चंडीगढ़ के ...अधिक पढ़ें

शिमला/चंडीगढ़. चंडीगढ़ नेशनल लेवल के शूटर और वकील सुखमनप्रीत सिंह उर्फ सिप्पी सिद्धू हत्याकांड में सीबीआई ने हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट के जज की बेटी कल्याणी सिंह को गिरफ्तार किया है. गुरुवार को यह गिरफ्तारी हुई है. सात साल पुराने मामले में सीबीआई ने कल्याणी सिंह को गिरफ्तार किया है.

कल्याणी चंडीगढ़ के सेक्टर-42 स्थित पोस्ट ग्रेजुएट गवर्नमेंट कॉलेज फॉर गर्ल्स के होम साइंस डिपार्टमेंट में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं. सीबीआई ने कल्याणी सिंह को अदालत में पेश कर 4 दिन के रिमांड पर ले लिया. कल्याणी सिंह की मां हिमाचल से पहले पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में भी जज रही हैं.

जानकारी के अनुसार, 35 साल के सिप्पी की लाश 20 सितंबर 2015 को चंडीगढ़ में सेक्टर-27 के एक पार्क से मिली. उसकी गोली मारकर हत्या की गई थी. इसी हत्या के आरोप में  कल्याणी को 15 जून 2022 की सुबह 11.30 बजे गिरफ्तार कर लिया गया. कल्याणी को गिरफ्तार करने के बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद कल्याणी सिंह को 4 दिन के रिमांड पर भेज दिया.

होम सेक्रेटरी के आदेश पर CBI जांच
सिप्पी सिद्धू के परिवार की डिमांड और चौतरफा दबाव के बाद 20 जनवरी, 2016 को चंडीगढ़ के तत्कालीन होम सेक्रेटरी ने सिप्पी हत्याकांड की जांच सीबीआई को सौंपने के ऑर्डर जारी किए थे. सीबीआई ने 13 अप्रैल, 2016 को कल्याणी सिंह और अन्य लोगों के खिलाफ हत्या, आपराधिक साजिश रचने, सबूत मिटाने और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया.

इस केस की जांच CBI की स्पेशल क्राइम ब्रांच कर रही है. सिप्पी सिद्धू अपने परिवार के साथ मोहाली के फेज 3बी2 में रहता था. सेक्टर-27 के पार्क में 20 सितंबर 2015 की रात को गोली मारकर सिप्पी की हत्या कर दी गई.

Tags: CBI Probe, Chandigarh, High court, Himachal Police, Himachal pradesh

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें