Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल में बनी 13 दवाओं के सैंपल फेल, रद्द होंगे फार्मा कंपनियों के लाइसेंस

हिमाचल में बनी 13 दवाओं के सैंपल फेल, रद्द होंगे फार्मा कंपनियों के लाइसेंस

हिमाचल में बनी 13 दवाओं के सैंपल फेल. (सांकेतिक तस्वीर)

हिमाचल में बनी 13 दवाओं के सैंपल फेल. (सांकेतिक तस्वीर)

Himachal Made Medicines Sample Failed: स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार (Health Minister) ने ऐसे सभी फार्मा उद्योगों के कार्रवाई के सख्त आदेश दिए हैं

शिमला. हिमाचल में बन रही कई जीवन रक्षक दवाएं (Life Saving Drugs) घटिया क्वालिटी की पाई गई है. केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रक संगठन ने पूरे देश में 1163 दवाइयों के सैंपल लिए थे, जिसमें 35 दवाएं सब स्टैंडर्ड पाई गई हैं. इनमें हिमाचल (Himachal) की फार्मा कंपनियों (Pharma Companies) ने बनाई 13 दवाएं (Medicines) भी शामिल हैं. दवाओं के सैंपल फेल होने के बाद हिमाचल में अलर्ट जारी किया गया है. ये शूगर, बीपी, हर्ट जुड़ी दवाएं (Medicines) हैं.

यह बोले स्वास्थ्य मंत्री
स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार (Health Minister Vipen Singh Parmar) ने ऐसे सभी फार्मा उद्योगों के कार्रवाई के सख्त आदेश दिए हैं. जिन कंपनियों की दवाएं घटिया पाई गई हैं, उनके लाइसेंस रद्द करने के अलावा कानूनी कार्रवाई भी अमल में लाने को कहा है. स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने न्यूज-18 के साथ कहा कि ऐसी सभी कंपनियां ब्लेकलिस्ट की जा रही हैं और भविष्य में इनकी दवाएं मार्केट में नहीं आएंगी. जो दवाएं मार्केट में हैं उन्हें भी वापस लेने को कहा गया है. सरकार की ओर से खरीदी जाने वाली दवाओं के लिए भी इन कंपनियों के साथ टेंडर प्रक्रिया के दौरान रेट कांट्रेक्ट नहीं किए जाएंगे. यानी सरकार ने इनसे अब दवाएं खरीदने से हाथ पीछे खींच लिए हैं.

हिमाचल के स्वाथ्य मंत्री विपिन सिंह परमार.( FILE PHOTO)
हिमाचल के स्वाथ्य मंत्री विपिन सिंह परमार.( FILE PHOTO)


ये दवाएं हुईं फेल
सैंपल फेल होने वाली दवाओं में बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ (बीबीएन) की 9 और सिरमौर की 1, ऊना की 1 और कांगड़ा (Kangra) जिले में स्थित दवा फैक्ट्रियों में बनने वाली दवाएं शामिल हैं. फेल दवाओं में हनुकैम लैबोरेट्रीज मानपुरा बद्दी की एजीथ्रोमाईसिन ओरल सस्पेंशन, बायोजेनेटिक ड्रग्स प्राइवेट लिमिटेड झाड़माजरी बद्दी की आई-ब्रूफेन टैबलेट, पार्क फार्मास्यूटिकल कालूझिंडा बद्दी की मॉक्सीफोर्ड आई-ड्राप, आपास्वामी आक्यूलर डिवाइस प्राइवेट लिमिटेड काठा बद्दी की टोबोटर आई-ड्राप, क्योरटेक स्किन केयर भटौलीकलां बद्दी की बेटामैथासोन डिपरोपायोनेट क्रीम, एलगेन हेल्थकेयर खड़ाखेड़ी कालाअंब सिरमौर की लूलीकोनाजोल क्रीम, विंगस बायोटेक एचपीएसआईडीसी बद्दी की कैलशियम कार्बोनेट टैबलेट, मेडिका लैब्‍स ढांग निहली नालागढ़ की एमोक्सीसिलिन एंड पोटाशियम कलवनेट टैबलेट, जीएनबी मेडिका लैब जगातखाना नालागढ़ की सेफिजिम डिस्पेरसिबल टैबलेट, जीएनबी मेडिका लैब्‍स ढांग निहली नालागढ़ की एमोक्सीसिलिन पोटाशियम कलवनेट विद लैक्टिक एसिड बेसिलस दवा, टाईटेनस फार्मा बाथू हरोली ऊना की मेटफॉरमिन हाईड्राक्लोराईड सस्टेन रिलीज दवा, केयरमैक्स फॉर्मूलेशन इंडस्ट्रियल एरिया संसारपुर टैरेस कांगड़ा का अमिकासिन सल्फेट इंजेक्शन, टैरेस फार्मास्यूटिकल इंडस्ट्रियल एरिया संसारपुर टैरेस कांगड़ा की रैमप्रिल टैबलेट शामिल हैं.

यह हुई थी जांच
जानकारी के अनुसार, इन दवाओं के सैंपल सीडीएससी सब-जोन इंदौर, सीडीएससीओ नॉर्थ जोन गाजियाबाद, सीडीएससीओ सब-जोन बद्दी, ड्रग्स कंट्रोल ऑफिस रोहतक, सीडीएससीओ हैदराबाद, ड्रग्स कंट्रोल डिपार्टमेंट अरुणाचल प्रदेश से लिए गए हैं. जबकि सीडीटीएल मुंबई, आरडीटीएल चंडीगढ़, सीडीएल कोलकाता, आरडीटीएल गुवाहाटी में सैंपल की जांच की गई है.

ये भी पढ़ें: PHOTOS: हिमाचल में भारी बर्फबारी-बारिश का अलर्ट, किन्नौर-लाहौल में हुआ स्नोफॉल

हिमाचल: फौजी जवान की पत्नी ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखा- बेटी का ख्याल रखना

भारी बर्फबारी से रोहतांग दर्रे में 2 महिलाओं समेत 14 लोग फंसे, BRO ने बचाया

हिमाचल पुलिस मुख्यालय के पास 6 माह के मासूम को टैक्सी ने रौंदा, मौत

कुल्हाड़ी से काटकर महिला की हत्या, शराब में धुत्त पति बोला-भाई ने मार डाला

उत्तरी भारत में प्रदूषण से परेशानी, साफ हवा के लिए शिमला पहुंच रहे टूरिस्ट

Tags: Drugs Problem, Generic medicines, Shimla

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर