Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाया तो लोग बोले-कड़वा तेल और सिलेंडर के रेट भी कम करो, वरना 2022 में होगी दिक्‍कत

हिमाचल सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाया तो लोग बोले-कड़वा तेल और सिलेंडर के रेट भी कम करो, वरना 2022 में होगी दिक्‍कत

हिमाचल सरकार के वैट कम से डीजल और पेट्रोल की कीमत में भारी गिरावट आयी है.

हिमाचल सरकार के वैट कम से डीजल और पेट्रोल की कीमत में भारी गिरावट आयी है.

Petrol-Diesel Rates in Himachal: केंद्र के फैसले के बाद गुरुवार को हिमाचल प्रदेश में पेट्रोल के दाम करीब 5.82 रुपये कम हो गए थे. वहीं, डीजल के दाम में 11.45 रुपये की कटौती हुई थी. लेकिन देर शाम को सरकार ने 7 रुपये और कम किए हैं. ऐसे में शिमला समेत कई शहरों में दामों में कमी हो गई है और दाम 100 रुपये से नीचे आ गए हैं.

अधिक पढ़ें ...

    शिमला. केंद्र सरकार के एक्साइज ड्यूटी कम करने के बाद हिमाचल प्रदेश सरकार (Himachal Government) ने भी वैट में भी कटौती की है. ऐसे में हिमाचल में कुल मिलाकर पेट्रोल 12 रुपये और डीजल 17 रुपये सस्ता हुआ है. केंद्र ने जहां बुधवार को एक्साइज ड्यटी कम की थी. वहीं, हिमाचल सरकार ने दिवाली के दिन वैट (VAT) में कटौती का ऐलान किया. दोनों फैसलों से एक ही झटके में हिमाचल में पेट्रोल और डीजल के दाम सौ रुपये से नीचे आ गए. हिमाचल में अब पेट्रोल करीब 95 रुपये और डीजल करीब 82 रुपये (Petrol-Diesel Rates in Himachal) बिक रहा है.

    वहीं, पेट्रोल और डीजल के दामों में कटौती को लोग हिमाचल उपचुनाव से जोड़कर भी देख रहे हैं, क्योंकि यहां पर उपचुनाव में कांग्रेस ने भाजपा का सूपड़ा साफ कर दिया है. लोगों का कहना है कि तीन विधानसभा और एक लोकसभा सीट पर हार की गूंज दिल्ली तक पहुंची है और इसी का असर है कि दाम कम हुए हैं.

    लोगों ने सोशल मीडिया पर दी प्रतिक्रिया
    सीएम जयराम ठाकुर ने अपने सोशल मीडिया पेज पर वैट में कटौती की जानकारी दी तो लोगों ने इस पर प्रतिक्रिया दी. एक यूजर ने पोस्ट पर कमेंट किया कि माननीय मुख्यमंत्री महोदय इस तरह के कार्यों की निगरानी करना आपकी जिम्मेदारी बिना चुनाव के भी थी, लेकिन आप भी खास जगह पहुंच कर आम जनमानस की समस्याओं को भूल चुके हो. आपकी जिम्मेदारी भी बनती है कि आप माननीय प्रधानमंत्री जी और हाईकमान को लोगों की समस्याओं और परेशानियों से अवगत करवाते. यदि चुनाव हो ही न तो कैसे आम जनमानस जीवित रह पाएगा.

    एक और यूजर ने लिखा कि पहले निचोड़ लो फिर छोड़ दो उसके फिर तुरन्त बाद जो कुछ बचा है, उसे फिर निचोड़ने पर लग जाओ. फिलहाल दीवाली की शुभकामनाएं.!

    सरसों का तेल सस्ता करने की मांग
    वहीं, सोशल मीडिया पर एक और प्रतिक्रिया में एक शख्स ने लिखा कि बढ़ाते 50 रुपये लीटर हैं और और घटाते 10 रुपये लीटर. ये इंसाफ तो नहीं है. खेर, अगर ये कार्य उपचुनाव से पहले करते तो शायद ये हाल भी नहीं होते. एक और शख्स ने कहा कि महोदय जी खाद्य सामग्री के ऊपर भी आग लगी है. थोडा इस और भी ध्यान दो वरना अभी तो जुबल कोटखाई में आपकी जमानत जब्त हुई है, लेकिन 2022 मैं बहुत जगह होने वाली है. एक युवक ने लिखा-हार के डोज की सख्त जरूरत थी, तभी आप लोगों को बात समझ आती है.

    अभी भी हम आपको बता रहे हैं कि पेट्रोल-डीजल को GST के दायरे में लाइए, नहीं तो जनता 2022 में आपको सबक सिखायेगी. वहीं, कड़वा तेल और सिलेन्डर के दामों में कटौती की मांग की गई है. साथ ही कहा गया है कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो 2022 में सफाई हो जाएगी.

    Tags: CM Jairam Thakur, Diesel Petrol New Rate Today, Himachal pradesh, LPG Price, Mustard Oil, Petrol and diesel, Petrol diesel price

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर