PPE Kit Scam: विजिलेंस के पास रिश्वत के पुख्ता सबूत, पृथ्वी ने गुप्ता को घर पर दिया था 50 हजार रुपये कैश
Shimla News in Hindi

PPE Kit Scam: विजिलेंस के पास रिश्वत के पुख्ता सबूत, पृथ्वी ने गुप्ता को घर पर दिया था 50 हजार रुपये कैश
घूसकांड के आरोपी हिमाचल के पूर्व स्वास्थ्य निदेशक अजय गुप्ता. (FILE PHOTO)

कोरोना काल के दौरान पीपीई किट की खरीद में घूस लेने का यह मामला है. इस मामले में हिमाचल के पूर्व स्वास्थ्य निदेशक और एक शख्स पृथ्वी सिंह की गिरफ्तारी हुई है. वहीं, मामले को लेकर जब भाजपा नेता और पूर्व अध्यक्ष राजीव बिंदल पर सवाल उठे थे तो उन्हें अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना पड़ा था.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में पीपीई किट्स (PPE Kits) की खरीद में 5 लाख रुपये के कथित घूसकांड ऑडियो मामले में आरोपी पूर्व स्वास्थ्य निदेशक और दूसरे आरोपी पृथ्वी सिंह की मुश्किलें और बढ़ती नजर आ रही हैं. विश्वसनीय सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर मिली है कि विजिलेंस ने 50 हजार रुपये की रिश्वत (Bribe) के पुख्ता सबूत जुटा लिए हैं. अप्रैल महीने में पृथ्वी सिंह ने हिमाचल के पूर्व स्वास्थ्य निदेशक एके गुप्ता (AK Gupta) को घर जाकर 50 हजार रुपये कैश दिया था. अब इस बात का पता लगाया जा रहा है कि वो पैसे पीपीई किट की खरीद को लेकर दिए गए थे या किसी और कारण से.

प्रॉपर्टी की जांच
विजिलेंस को यह भी जानकारी मिली है कि आरोपी एके गुप्ता की हिमाचल और हिमाचल के बाहर कुल 6 स्थानों पर संपत्ति हैं, जिसमें जमीन और फ्लैट शामिल हैं. नाहन, पांवटा साहिब, कालाअंब और पंचकूला में ये प्रॉपर्टी हैं. विजिलेंस इस बात का पता लगा रही है कि जब यह प्रॉपर्टी बनाई गई या खरीदी गई, उस वक्त गुप्ता की आय का साधन क्या था. पृथ्वी सिंह के बारे में फिलहाल इतना पता चला है कि उसका चंडीगढ़ में फ्लैट है और सिरमौर में पुश्तैनी संपत्ति है.

अगले महीने चालान पेश होने की संभावना
इस मामले में दोनों आरोपियों से अभी और पूछताछ होना बाकी है. एफएसएल से फोन रिकॉर्ड और दोबारा लिए गए वॉयस सैंपल की रिपोर्ट जांच अधिकारी के पास आना बाकी है. इस मामले पर अगले महीने चालान पेश करने की संभावना है. वहीं दूसरी ओर, आरोपी पृथ्वी सिंह जिस फर्म के लिए काम करता है उस फर्म के मालिक से आज दूसरे दौर की पूछताछ विजिलेंस मुख्यालय में की गई. इस मामले में फर्म मालिक की भूमिका को लेकर काफी सवाल हैं, जिनके जवाब विजिलेंस तलाश रही है.



हाईकोर्ट में बेल की अर्जी
बायोएड फर्म के मालिक जीएस कोहली से मंगलवार को पूछताछ की गई थी. कोहली ने एंटिस्पेटरी बेल के लिए हाईकोर्ट में अर्जी दी है. उस पर शुक्रवार को सुनवाई होनी है. बता दें के कोरोना काल के दौरान पीपीई किट की खरीद में घूस लेने का यह मामला है. इस मामले में हिमाचल के पूर्व स्वास्थ्य निदेशक और एक शख्स पृथ्वी सिंह की गिरफ्तारी हुई है. वहीं, मामले को लेकर जब भाजपा नेता और पूर्व अध्यक्ष राजीव बिंदल पर सवाल उठे थे तो उन्हें अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना पड़ा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading