होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /शिमला में 14 से शुरू हो रहा वैक्सीनेशन, स्लॉट बुकिंग में समस्याओं से युवा मायूस

शिमला में 14 से शुरू हो रहा वैक्सीनेशन, स्लॉट बुकिंग में समस्याओं से युवा मायूस

शिमला के युवाओं को मोबाइल फोन से स्लॉट बुकिंग करने में काफी परेशानी पेश आ रही है.

शिमला के युवाओं को मोबाइल फोन से स्लॉट बुकिंग करने में काफी परेशानी पेश आ रही है.

वैक्सीन की कमी और अन्य व्यवस्थागत कमियों के चलते मई में ही हिमाचल प्रदेश की राजधानी में टीकाकरण अभियान ठप हो गया था. इस ...अधिक पढ़ें

शिमला. कोरोना महामारी से निपटने के लिए चलाया गया वैक्सीनेशन अभियान एक बार फिर शुरू होने जा रहा है. 14 जून से इस अभियान के तहत 18 से 44 साल आयुवर्ग के व्यक्तियों को टीका लगाया जाना है. इसके लिए शनिवार को स्लॉट खुला, लेकिन स्लॉट खुलने के बाद भी युवाओं को सेंटर नहीं मिल पाया, जिसके चलते शिमला के कई युवाओं को वैक्सीन नहीं लग पाएगी. वैक्सीन सेंटर की बुकिंग न होने से युवाओं के चेहरे मायूस दिखे और उन्होंने सरकार से कोरोना टेस्ट की तरह सभी स्वास्थ्य संस्थानों पर टीका लगाने की मांग की.

'सैंपल की तरह वैक्सीन की व्यवस्था भी हो'
शिमला के युवाओं का कहना है कि करीब एक माह से वैक्सीन लगाने के लिए स्लॉट बुक कर रहे हैं, लेकिन ढाई बजे खोले जाने वाला स्लॉट पांच मिनट में ही बुक हो जाता है, जिसके चलते नजदीकी सेंटर बुक नहीं हो पा रहा है. उनका कहना है कि सरकार को इस दिशा में उचित कदम उठाने की जरूरत है. उन्होंने मांग की है कि जिस तरह से कोरोना के सैंपल लिये जा रहे हैं, उसी तरह सभी संस्थानों में टीकाकरण की व्यवस्था भी की जाना चाहिए. इससे युवाओं को टीका मिल सकेगा, तो वहीं स्लॉट लेने और महामारी से निजात दिलाने में भी सहायता मिलेगी.

himachal pradesh news, shimla news, himachal vaccination, shimla vaccination, हिमाचल प्रदेश न्यूज़, शिमला न्यूज़, हिमाचल में वैक्सीनेशन, हिमाचल में टीकाकरण
शिमला के युवाओं ने इंतज़ामों की खामियां बताते हुए बेहतर व्यवस्था की मांग की.


ज़िले के लिए 6500 कोविशील्ड वैक्सीन उपलब्ध
बता दें कि शिमला के लिए 6500 कोविशील्ड डोज़ मिली हैं, जो सप्ताह में दो दिन सोमवार और वीरवार को 18 से 44 साल आयु वर्ग के युवाओं को दी जाएंगी. बता दें कि 18 से 44 साल आयुवर्ग के व्यक्तियों को वैक्सीन लगाने के लिए इंतज़ार करना पड़ रहा है. ज़िले की बात करें तो 31 मई तक सप्ताह के दो दिनों में ही 18 से 44 साल तक के व्यक्तियों को टीका लगाया गया, जिसमें एक दिन में 27 सेशन साइट चिन्हित की गई थीं. लेकिन कम सेशन साईट और वैक्सीन की कमी के चलते कई युवा वैक्सीन नहीं लगा पाए. शहर के युवा और युवतियां वैक्सीन लगाने से वंचित रहे. वैक्सीन के लिए जूझ रहे युवाओं ने बेहतर व्यवस्था की मांग की है.

Tags: 18+ Vaccination, Himachal pradesh news, Shimla

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें