BSC की छात्रा को मैथ्स के पेपर में दिए 0 नंबर, अब HPU ने मानी गलती

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी.
हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी.

Himachal Pradesh University: News 18 से बातचीत में कुलपति ने कहा कि उत्तर पुस्तिका का दोबारा मूल्यांकन किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2020, 1:02 PM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश के शिमला (Shimla) में प्रदेश यूनिवर्सिटी में बीएससी की छात्रा को फेल करने का मुद्दा पूरी तरह से गर्मा गया है. एबीवीपी ने प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए हैं और कल एचपीयू (HPU) परिसर में रोष रैली निकाल पर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा. वहीं दूसरी और प्रशासन ने गलती मानी है और कहा है कि पेपर का दोबारा मूल्यांकन (Revaluation) किया जाएगा.

ये है मामला
बता दें कि पेपर चैकिंग के दौरान बड़ी लापरवाही सामने आई है. छात्रा का जब परिणाम निकला तो उसे गणित ‌विषय में जीरो नंबर दिए गए थे. छात्रा इस परिणाम से बिलकुल हैरान थी, उसने फिर आरटीआई के जरिए आंसर शीट मांगी तो पता चला कि सभी सवालों के जबाव में काटे लगाए गए थे. एबीवीपी ने जब एचपीयू के गणित विभाग के शिक्षकों को उत्तर पुस्तिका दिखाई और मूल्यांकन करवाया तो पता चला कि छात्रा के 45 अंक बन रहे हैं. इससे पहले भी कई बार पेपर चैकिंग प्रकिया सवालों के घेरे में रही है.

एबीवीपी की चेतावनी
विद्यार्थी परिषद की एचपीयू इकाई के अध्यक्ष विशाल वर्मा ने सवाल उठाते हुए कहा कि प्रशासन छात्रों के भविष्य से खिलावाड़ कर रहा है. इस पेपर को चैक करने वाले शिक्षक को ब्लैक लिस्ट करने की मांग की है.एबीवीपी का कहना है कि बहुत से छात्रों के साथ इस तरह से हो रहा है लेकिन प्रशासन कोई कार्रवाई करने या ठोस कदम उठाने के लिए राजी नहीं हैं. एबीवीपी ने चेतावनी दी है कि अगर व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा.



ये बोले वीसी
वहीं दूसरी ओर एचपीयू के कुलपति प्रोफेसर सिकंदर कुमार ने माना है कि ये प्रशासन की गलती है,इसको सुधारा जाएगा. उन्होंने कहा कि पेपर चैक करने वाले शिक्षक के खिलाफ नियमों के तहत कार्रवाई अमल में लाई गई है,उसे ब्लैक लिस्ट किया गया है. News 18 से बातचीत में कुलपति ने कहा कि उत्तर पुस्तिका का दोबारा मूल्यांकन किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज