Home /News /himachal-pradesh /

himachal professors hunger strike university college teachers demand new ugc 7th pay scales nodvm

जयराम सरकार से नाराज प्रोफेसरों ने की भूख हड़ताल, 7वें वेतनमान और अन्य मुद्दों पर उठाई अपनी आवाज

नाराज शिक्षकों ने 12 मई से परीक्षा के मूल्यांकन का बहिष्कार कर रखा है. सभी ने  विरोध स्वरूप सोमवार को सभी महाविद्यालयों में एक दिन की भूख हड़ताल की.

नाराज शिक्षकों ने 12 मई से परीक्षा के मूल्यांकन का बहिष्कार कर रखा है. सभी ने विरोध स्वरूप सोमवार को सभी महाविद्यालयों में एक दिन की भूख हड़ताल की.

Himachal News: राजधानी शिमला के संजौली कॉलेज में भी शिक्षकों ने भूख हड़ताल की. हिमाचल राजकीय महाविद्यालय शिक्षक संघ के बैनर तले ये भूख हड़ताल की गई. संघ ने तय किया है कि यूजीसी के सातवें वेतनमान के लागू होने तक यूजी परीक्षाओं का मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार जारी रहेगा. संघ के महासचिव डॉ. राम लाल ने बताया कि ये निर्णय लिया गया है कि 24 मई से सभी शिक्षक दोपहर 12.30 से 1.30 बजे के दौरान सभी कॉलेजों में एक घंटे का धरना देंगे और गेट मीटिंग की जाएगी.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. हिमाचल प्रदेश में कर्मचारियों की नाराजगी झेल रही जय राम सरकार अब कॉलेज प्रोफेसरों के निशाने पर भी आ गई है. सातवां यूजीसी वेतनमान लागू न होने और अन्य मांगों को लेकर 132 कॉलेज के प्रोफेसर सरकार से नाराज हैं. नाराज शिक्षकों ने 12 मई से परीक्षा के मूल्यांकन का बहिष्कार कर रखा है. सभी ने  विरोध स्वरूप सोमवार को सभी महाविद्यालयों में एक दिन की भूख हड़ताल की. बता दें कि वेतनमान के मुद्दे के अलावा प्राचार्यों की डीपीसी, कॉलेज शिक्षकों के लिए एम.फिल / पीएचडी वेतन वृद्धि और कॉलेजों में सीएएस के तहत प्रोफेसरों के पद और यूजीसी मानदंडों के अनुसार अनुबंध शिक्षकों को राष्ट्रीय लाभ समेत अन्य लंबित मुद्दों पर ये शिक्षक खफा हैं.

सभी कॉलेज में शिक्षक देंगे धरना
राजधानी शिमला के संजौली कॉलेज में भी शिक्षकों ने भूख हड़ताल की. हिमाचल राजकीय महाविद्यालय शिक्षक संघ के बैनर तले ये भूख हड़ताल की गई. संघ ने तय किया है कि यूजीसी के सातवें वेतनमान के लागू होने तक यूजी परीक्षाओं का मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार जारी रहेगा. संघ के महासचिव डॉ. राम लाल ने बताया कि ये निर्णय लिया गया है कि 24 मई से सभी शिक्षक दोपहर 12.30 से 1.30 बजे के दौरान सभी कॉलेजों में एक घंटे का धरना देंगे और गेट मीटिंग की जाएगी.

उन्होंने कहा कि सरकार अगर मांगें नहीं मानेगी तो 30 मई से भूख हड़ताल शुरू की जाएगी. बड़े कॉलेजों में कम से कम तीन से पांच व्यक्ति भूख हड़ताल करेंगे और छोटे कॉलेजों में एक से तीन व्यक्ति इसका पालन करेंगे. उसके बाद आगामी रणनीति तय की जाएगी. डॉ. राम लाल ने सरकार से मांग की कि शिक्षण बिरादरी और छात्रों के भविष्य के बड़े हित में सभी मुद्दों को हल किया जाए, अधिकारों के लिए अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाए.

हिमाचल की शिक्षा व्यवस्था पर AAP ने उठाए सवाल
हिमाचल प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था और शिक्षा के स्तर को लेकर आम आदमी पार्टी ने सवाल उठाए हैं. आम आदमी पार्टी का कहना है कि प्रदेश में शिक्षा-व्यवस्था दयनीय स्थिति में है.‘आप’ का कहना है कि शहरों के स्कूलों में शिक्षकों की भरमार है, जबकि ग्रमीण इलाकों में जहां अध्यापकों की ज्यादा जरूरत है वहां पर एक-एक शिक्षक के हवाले पूरी व्यवस्था को सौंपा गया है. ‘आप’ ने आरोप लगाया कि नेताओं और शिक्षक नेताओं की मिलीभगत से मनचाहे स्थानों पर तैनाती दी जा रही है और प्रदेश सरकार और भाजपा के राष्ट्रीय नेता चुनावी दौरे कर रह हैं.

Tags: CM Jai Ram Thakur, Himachal Government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर