हिमाचल में बारिश: एनएच-3 समेत 323 सड़कें बंद, 119 वाहनों के फंसे होने की सूचना

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 17, 2019, 11:15 PM IST
हिमाचल में बारिश: एनएच-3 समेत 323 सड़कें बंद, 119 वाहनों के फंसे होने की सूचना
हिमाचल के कई इलाकों में बारिश का दौर जारी

हिमाचल में आज भारी बारिश ने खूब कहर बरपाया है. ताजा बारिश के चलते कई मार्ग बाधित हो गए हैं. बीती रात से हो रही बारिश के चलते 323 मार्ग बाधित हुए हैं.

  • Share this:
हिमाचल में आज भारी बारिश ने खूब कहर बरपाया है. ताजा बारिश के चलते कई मार्ग बाधित हो गए हैं. बीती रात से हो रही बारिश के चलते 323 मार्ग बाधित हुए हैं. इनमें सबसे ज्यादा कांगड़ा जोन में 129 मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं. इसी तरह शिमला जोन में 66 मार्ग, हमीरपुर में 6 मार्ग और मंडी में 122 मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं. लाहौल स्पीति में एनएच-3 नालों के उफान में आने के कारण बाधित हो गया है. इस राजमार्ग पर कोकसर से ग्रांफू तक वाहन फंसे हुए हैं. इनमें लोग भी शामिल हैं. मनाली-केलंग के बीच कोकसर के नजदीक नाले में भारी बाढ़ आने के कारण दोनों ओर कई वाहन फंसे हुए हैं.

केलांग डीपीसीआर द्वारा ताजा मिली जानकारी के अनुसार एनएच-3 पर केलांग की तरफ कोकसर और तेलिंग नल्ला के बीच 36 गाड़ियां फंसी हुई हैं. इनमें 3 एचआरटीसी की बसें, 8 बाइक और 25 लाइट व्हीकल्स हैं. यहां 149 लोग फंसे हुए हैं. सभी लोग सुरक्षित हैं. वहीं मनाली की तरफ कोकसर और ग्रम्फू के बीच एनएच-3 पर 450 लोग फंसे हुए हैं. इस मार्ग पर 211 गाड़ियां फंसी हैं. इनमें 70 ट्रक, 40 बाइक, 80 लाइट व्हीकल्स, 20 सेना की गाड़ियां और 1 एचआरटीसी की बस शामिल है. ट्रक और सेना की गाड़ियों में सवार लोग अपनी गाड़ियों में ही सवार हैं. बस में सवार लोगों के लिए प्रशासन ने व्यवस्था की है. वहीं कुछ गाड़ियों के मनाली लौट जाने की भी सूचना है.

बारिश से अब तक सरकार को 474 करोड़ 37 लाख का नुकसान


हिमाचल प्रदेश रेड अलर्ट पर

हिमाचल प्रदेश रेड अलर्ट पर है. जहां रेड अलर्ट 17 अगस्त को ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा, चंबा और मंडी में जारी किया गया वहीं 18 अगस्त को रेड अलर्ट कांगड़ा, मंडी में जारी किया गया है. मौसम विभाग के अनुसार इन दो दिनों में 115 mm से 204 mm तक बारिश हो सकती है. जिन जिलों में अलर्ट जारी कि गया है वहां के जिला प्रशासन को पहले ही सूचना दी जा चुकी है. उन्हें मुस्तैद रहने के भी निर्देश जारी किए जा चुके हैं. सोमवार के बाद बारिश की रफ्तार में कुछ कमी आ सकती है.

कांगड़ा में सबसे ज्यादा 118 mm बारिश हुई
बता दें कि शनिवार को राजधानी में सुबह से ही रुक रूक कर बरिश होती रही. शिमला में आज 40mm बारिश दर्ज की गई. वहीं कांगड़ा में सबसे ज्यादा 118 mm बारिश हुई. मौसम विभाग के अनुसार इसे भारी से बहुत भारी बारिश की श्रेणी में माना जाएगा. इसके अलावा, कांगड़ा के धर्मशाला में 115.6mm बारिश दर्ज की गई. मौसम विभाग की ओर से एडवाइजरी जारी की गई है कि भारी बारिश होने की वजह से 5 जिलों चंबा, कुल्लू , लाहौल स्पीति, कांगड़ा और मंडी में सड़कों के बाधित होने की आशंका है. ऐसे में घर से बाहर निकलने से पहले लोग मौसम के बारे में अपडेट जरूर लें.
Loading...

बारिश से प्रदेश को 474 करोड़ का नुकसान
उधर हालिया बारिश से प्रदेश को 474 करोड़ 37 लाख रूपये का नुकसान हुआ है. इसमें लोक निर्माण विभाग को 290 करोड़, आईपीएच को 167 करोड़ रूपये का नुकसान पहुंचा है. हिमाचल में आज ऊना जिला को छोड़कर सभी जिलों में सामान्य से अधिक बारिश दर्ज की गई है. वहीं विशेष सचिव आपदा प्रबंधन डीसी राणा ने न्यूज 18 हिमाचल को बताया कि फिलहाल प्रदेश में स्थिति सामान्य है. कल तक के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. कोकसर ब्रिज बाढ़ के कारण प्रभावित हुआ है, जिसकी मरम्मत का काम चल रहा है. सभी लोग सुरक्षित हैं और जल्द मार्ग बहाल होगा.

 ये भी पढ़ें - कुल्लू : पहाड़ों पर हो रही भारी बारिश, नदी-नाले उफान पर

ये भी पढ़ें - कांगड़ा में 21 अगस्त तक हो सकती है भारी बरसात,रेड अलर्ट जारी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 17, 2019, 10:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...