vidhan sabha election 2017

हिमाचल राजभवन बना मिसाल, दो साल में सरकार के बचाए 12 लाख रुपए

G.S. Tomar | News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 12:24 PM IST
हिमाचल राजभवन बना मिसाल, दो साल में सरकार के बचाए 12 लाख रुपए
हिमाचल राजभवन.
G.S. Tomar | News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 12:24 PM IST
ऊर्जा संरक्षण में हिमाचल राजभवन ने राज्य भर के लिए मिसाल कायम की है. बीते दो वर्षों में 12 लाख रुपए के बिजली के बिल में कटौती करके ऊर्जा संरक्षण को लेकर सरकार से लेकर जनता के सामने उदाहरण पेश किया.

राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने बताया कि इस साल राजभवन में के बिजली बिल में आठ लाख रुपये की कटौती हुई है. उन्होंने बताया कि बीते साल में भी चार लाख रुपए की बिजली बचाई गई थी.

राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने प्रदेश वासियों से ऊर्जा संरक्षण की अपील की और कहा कि खासकर सरकारी कार्यालयों में गैर-जरूरी बिजली उपयोग की जाती है. कई बार घरों में भी बेबजह बिजली का दुरुपयोग देखने को मिलता है, जिससे ऊर्जा बेकार चली जाती है.

‘राजभवन में गैरजरूरी उपकरण जलाने पर रोक’

प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने कहा कि राजभवन में बिजली के बिलों में लगातार कमी आ रही है, ऐसा इसलिए की गैर-जरूरी बिजली उपकरण जलाने पर रोक लगाई गई.

राजभवन में बिजली बचाने में सबसे पहले उन्होंने खुद पहल की और रजभवन में गैर जरूरी जल रहे उपकरणों को भुझाना शुरू किया जिसका परिणाम आज देखने को मिला. राज्यपाल ने सभी लोगों से ऐसे कदम उठाने की अपील की.

बता दें कि राज्यपाल सतलुज जल विद्युत निगम की ओर से आयोजित प्रतियोगिता में पहुंचे थे. इस प्रतियोगित में प्रदेश भर के 13 हजार 834 स्कूलों ने भाग लिया, जिसमें 4 लाख 52 हजार 371 छात्रों ने भाग लिया.

First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर