हिमाचल: सड़क हादसे में सालाना जाती है 1200 से ज्यादा लोगों की जान, उठाए जाएंगे ये कदम

हिमाचल प्रदेश सड़क हादसों को लेकर देशभर में सबसे उपरी पायदान पर हैं. प्रदेश में हर वर्ष करीब 1200 से ज्यादा लोग सड़क हादसों में अपनी जान गंवा रहे हैं.

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 3, 2019, 3:55 PM IST
हिमाचल: सड़क हादसे में सालाना जाती है 1200 से ज्यादा लोगों की जान, उठाए जाएंगे ये कदम
फाइल फोटो: हिमाचल में सड़क हादसों में मरने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है.
G.S. Tomar
G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 3, 2019, 3:55 PM IST
हिमाचल प्रदेश सड़क हादसों को लेकर देशभर में सबसे उपरी पायदान पर हैं. प्रदेश में हर वर्ष करीब 1200 से ज्यादा लोग सड़क हादसों में अपनी जान गंवा रहे हैं. प्रदेश में बढ़ते सड़क हादसे सरकार के सामने एक बड़ी चुनौती बनकर उभरा है. प्रदेश सरकार हादसों पर रोक लगाने के लिए कई तरह के कदम उठा रही है. इसी कड़ी में 4 अगस्त को रिज मैदान से राज्य स्तरीय सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान का आगाज करने जा रही है. 4 अगस्त को अभियान का आगाज मैराथन के साथ किया जाएगा परिवहन मंत्री गोबिंद सिंह ठाकुर 7.30 बजे मैराथन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करेंगे.

ये रहेगा कार्यक्रम

सीएम जयराम ठाकुर 9.30 बजे कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करेंगे और जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. पथ परिवहन विभाग के आयुक्त कैप्टन जे.एम.पठानिया ने प्रेस वार्ता आयोजित कर कहा कि सबसे पहले लोगों का जागरूक होना जरूरी है. पठानिया ने कहा कि सड़क सुरक्षा एक संस्कृति के रूप अपनाने की जरूरत है जिसे जीवन में एक आदत के रूप में विकसित करना होगा.

95 फीसदी सड़क हादसे मानवीय चूक से होते हैं

accident-सड़क हादसा
राज्य में होने वाले सड़क हादसों में 95 फीसदी मानवीय भूल की वजह से होते हैं.


पठानिया ने कहा कि प्रदेश में 95 फीसदी सड़क हादसे मानवीय चूक से होते है जोकि शासन-प्रशासन के लिए एक बड़ी चुनौती बनकर उभर रही है और इस पर रोक के लिए लोगों में जागरूकता बढ़ाने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें: HRTC भर्ती: बिना टेस्ट दिए दो चालकों को मिल गई नौकरी, मंत्री ने कहा-पूरी पारदर्शिता बरती गई
Loading...

VIDEO : हमीरपुर में बस और टैंपू में जोरदार टक्कर, 17 यात्री घायल

जानिए क्यों, देहरा का बड़ा गांव काटेगा 6 महीने काले पानी की सज़ा
First published: August 3, 2019, 3:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...