होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /फेसबुक, प्यार और शादीः शिमला की 2 बच्चों की मां ने भोपाल की महिला से रचाई शादी, पुलिस तक पहुंचा मामला

फेसबुक, प्यार और शादीः शिमला की 2 बच्चों की मां ने भोपाल की महिला से रचाई शादी, पुलिस तक पहुंचा मामला

यह प्रेम कहानी शिमला से शुरू हुई. शिमला की महिला की फेसबुक के जरिए भोपाल में रहने वाली एक महिला से दोस्ती हुई.

यह प्रेम कहानी शिमला से शुरू हुई. शिमला की महिला की फेसबुक के जरिए भोपाल में रहने वाली एक महिला से दोस्ती हुई.

Shimla Women Marriage to Bhopal Women: महिला अपराध डीसीपी विनीत कपूर ने बताया कि दोनों महिलाएं बालिग हैं और उन पर किसी ...अधिक पढ़ें

    शिमला/भोपाल. महिला की फेसबुक के जरिये दूसरी महिला से दोस्ती हुई. बाद में दोनों में नजदीकियां बढ़ी और दोनों ने शादी रचा ली. मामला हिमाचल प्रदेश और मध्य प्रदेश की दो महिलाओं से जुड़ा है. अब महिलाओं ने भोपाल में शादी की है. हालांकि, दोनों महिलाएं पहले से ही शादीशुदा हैं और इनके बच्चे भी हैं.

    दरअसल, नेपाली मूल की महिला शिमला में रहती है. दूसरी महिला भोपाल से है. नेपाली संगठन के पास मामला पहुंचा को उन्होंने भोपाल पुलिस से मदद मांग और भोपाल पुलिस ने दोनों की काउंसलिंग कराई और मामला सुलझाया.

    कैसे शुरू हुई दोस्ती
    यह प्रेम कहानी शिमला से शुरू हुई. शिमला की महिला की फेसबुक के जरिए भोपाल में रहने वाली एक महिला से दोस्ती हुई. यह दोस्ती इतनी आगे बढ़ी कि दोनों ने एक साथ रहने का फैसला लिया. इसके बाद शिमला की महिला भोपाल में रहने वाली महिला से मिलने आई. इसके बाद ये दोस्ती प्यार में बदल गई और फिर दोनों ने शादी कर ली. बताया जा रहा है कि दोनों ने गाजियाबाद में शादी की.

    दोनों महिलाओं के बच्चे
    जानकारी के मुताबिक, नेपाली महिला के दो बच्चे हैं, जबकि भोपाल में रहने वाली महिला का एक बच्चा है. भोपाल में रहने वाली महिला अपने पति से अलग रह रही थी, जबकि शिमला में रहने वाली महिला अपने पति को छोड़कर आई थी. शिमला में महिला के पति ने पत्नी के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई है. नेपाली संगठन को जब मामले की जानकारी लगी तो पुलिस से संपर्क किया. महिला अपराध शाखा देखने वाली एडीसीपी रिचा चौबे को पूरी बात बताई. जांच में पता चला कि नेपाली महिला निशातपुरा थाना इलाके में रह रही है. इस बीच महिला का पति भी नेपाली संगठन के जरिए शिमला से भोपाल आ गया. भोपाल के गोविंदपुरा थाने में दोनों महिलाओं की काउंसलिंग कराई गई.

    जांच में क्या निकला
    काउंसलिंग के दौरान यह बात सामने आई कि दोनों महिलाएं बिना किसी दबाव के और अपनी इच्छा से एक साथ रह रही थीं. दोनों को साथ रहते हुए डेढ़ महीना हो गया था. महिला अपराध डीसीपी विनीत कपूर ने बताया कि दोनों महिलाएं बालिग हैं और उन पर किसी का कोई दबाव नहीं है. उनकी दोस्ती फेसबुक पर हुई. उन्होंने खुद एक साथ रहने का फैसला लिया.

    Tags: Bhopal crime, Facebook, Himachal news, Love marriage, Shimla police

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें