Home /News /himachal-pradesh /

Liquor Deaths in Mandi: जहरीली शराब पीने से मौत मामले की जांच के लिए SIT गठित

Liquor Deaths in Mandi: जहरीली शराब पीने से मौत मामले की जांच के लिए SIT गठित

मंडी जिले में जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत हो चुकी है और दो की हालत गंभीर है.

मंडी जिले में जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत हो चुकी है और दो की हालत गंभीर है.

Spurious Liquor Case in Mandi: मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी इस घटना पर दुख जताया है. विधायक ने बताया कि सरकार की तरफ से मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख और प्रशासन की तरफ से भी 4-4 लाख की आर्थिक सहायता मुहैया करवाई जाएगी.

शिमला. हिमाचल प्रदेश की मंडी जिले में जहरीली शराब (Illicit Liquor) पीने से 5 लोगों की मौत हो चुकी है और दो की हालत गंभीर है. इस मामले पर पुलिस मुख्यालय ने एसआईटी का गठन कर दिया है. डीजीपी की ओर से 4 सदस्यीय एसआईटी का गठित किया गया है. हिमाचल की सेंट्रल रेंज के डीआईजी मधुसूदन की अध्यक्षता में एसआईटी बनाई गई है, मंडी (Mandi) जिले की एसपी शालिनी अग्निहोत्री, कांगड़ा के एसपी खुशाल चंद शर्मा और एसपी क्राइम, सीआईडी, शिमला, वीरेंद्र कालिया को एसआईटी (SIT) का सदस्य बनाया गया है.

पुलिस मुख्यालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार 17 जनवरी की शाम को कुछ लोगों ने मंडी जिले के सलापड़ में देसी शराब पी थी, ये शराब कांगड़ा के संसारपुर और चंडीगढ़ में बनाई गई थी.
इस मामले में अब तक कुल 5 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि दो बीमार लोगों का उपचार मंडी के मेडिकल कालेज नेरचौक में जारी है. मृतकों में तीन लोग सलापड़ पंचायत के जबकि दो लोग कांगू और डैहर पंचायत के बताए जा रहे हैं. पुलिस ने इस मामले पर सुंदरनगर थाने में आईपीसी की धारा 304, 308 और 120 के तहत मामला दर्ज किया है.
CM जयराम ठाकुर ने घटना पर जताया दुख
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी इस घटना पर दुख जताया है. विधायक ने बताया कि सरकार की तरफ से मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख और प्रशासन की तरफ से भी 4-4 लाख की आर्थिक सहायता मुहैया करवाई जाएगी. वहीं, बीमार लोगों के उपचार का सारा खर्च सरकार उठाएगी. फौरी राहत के तौर पर 50-50 हजार की राशि दी जा चुकी है.

Tags: Himachal pradesh, Liquor Mafia, Mandi City, Shimla News, Shimla police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर