Home /News /himachal-pradesh /

Weather Report: हिमाचल में 3 दिन बर्फबारी-बारिश के बाद खिली धूप, 685 सड़कें बाधित, अटल टनल बंद

Weather Report: हिमाचल में 3 दिन बर्फबारी-बारिश के बाद खिली धूप, 685 सड़कें बाधित, अटल टनल बंद

शिमला के नारंकडा का नजारा.

शिमला के नारंकडा का नजारा.

Weather in himachal : हिमाचल प्रदेश में तीन दिन तक लगातार बारिश और बर्फबारी का क्रम जारी रहा. शिमला के खदराला में 71 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है. इसके अलावा, चंबा के भरमौर में 31, छतराड़ी में 31, शिमला के शिलारू में 29.1, किन्नौर के कल्पा में 25, किन्नौर के निचार और लाहौल स्पीति के गोंदला में 20-20 सेंटीमीटर बर्फ और किन्नौर के सांगला में 19, मूंरग में 12 सेंटीमीटर, शिमला और जुब्बल में 12 सेंटीमीटर और मनाली में 10 सेंटीमीटर बर्फ गिरी है

अधिक पढ़ें ...

शिमला. हिमाचल प्रदेश में तीन लगातार बारिश और बर्फबारी के बाद अब मंगलवार को मौसम खुल गए है. प्रदेशभर में मंगलवार को धूप निकली है. हांलाकि, अब कोहरा पड़ रहा है. बर्फबारी के चलते प्रदेश के कई जिलों में जनजीवन अस्तव्यस्त हो गए हैं. शिमला में ऊपरी इलाकों के लिए सड़क से बर्फ तो हटाई गई है. लेकिन फिसलन के चलते सड़कों पर वाहन ले जाना खतरे से खाली नहीं है. लाहौल स्पीति में ताजा हिमपात के चलते अटल टनल पूरी तरह से बंद है. यह मार्ग सभी वाहनों के लिए बंद हो गया है. वहीं, राहत की बात यह है कि सूबे में एक अगले तीन दिन तक मौसम साफ रहेगा और धूप खिलेगी.

जानकारी के अनुसार, सोमवार शाम तक प्रदेश में 685 सड़कें बंद थी और 415 रूटों पर बस सेवा प्रभावित रही. शिमला, कुल्लू, चंबा, लाहौल-स्पीति और मंडी जिले में बर्फबारी से जिंदगी जम सी गई है. प्रदेश में 1288 बिजली ट्रांसफार्मर बंद होने से कई क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड के बीच अंधेरा पसरा है. कुल्लू की पार्वती घाटी के जरी-मलाणा मार्ग पर पहाड़ी से पत्थर गिरने से कई वाहनों को नुकसान हुआ है. कुल्लू जिले से शिमला को जोड़ने वाला जलोड़ी जोत एनएच-305 ठप है. शिमला जिला में सबसे अधिक 257 सड़कें बंद हैं और चंबा में सबसे अधिक 666 बिजली ट्रांसफार्मर ठप हैं. सिरमौर और चंबा में बारातियों को बर्फबारी के चलते पैदल जाना पड़ा. लाहौल पुलिस के अनुसार, मंगलवार को जिला आपदा सेल से मिली जानकारी के अनुसार, घाटी मे भारी बर्फबारी के कारण लेह मनाली हाईवे सोलंग से सिस्सु तक सभी प्रकार के वाहनो के लिए बंद है. हालांकि, घाटी में मौसम साफ है.

राहत की बात यह है कि सूबे में एक अगले तीन दिन तक मौसम साफ रहेगा और धूप खिलेगी.

राजस्व विभाग के अनुसार 1 से 24 जनवरी तक प्रदेश में 98 लोगों की मौत हुई है. इसमें अधिकतर मौतें मौसम खराब होने के चलते हुए सड़क हादसों में हुई हैं. साथ ही अब तक 72 मवेशियों की जान भी गई है. 4 पक्के और 15 कच्चे मकान जमींदोज हुए हैं. इस विंटर सीजन में अब तक प्रदेश को 123 करोड़ रुपए से ज्यादा का राजस्व नुकसान हुआ है.

कहां-कहां कितना हिमपात
हिमाचल प्रदेश में तीन दिन तक लगातार बारिश और बर्फबारी का क्रम जारी रहा. शिमला के खदराला में 71 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है. इसके अलावा, चंबा के भरमौर में 31, छतराड़ी में 31, शिमला के शिलारू में 29.1, किन्नौर के कल्पा में 25, किन्नौर के निचार और लाहौल स्पीति के गोंदला में 20-20 सेंटीमीटर बर्फ और किन्नौर के सांगला में 19, मूंरग में 12 सेंटीमीटर, शिमला और जुब्बल में 12 सेंटीमीटर और मनाली में 10 सेंटीमीटर बर्फ गिरी है. बिलासपुर के नैना देवी और सिरमौर के संगडाह में 52 एमएम, सिरमौर के रेणुका में 44 एमएम, धर्मशाला और भौरंज में 40 एमएम, भरारी 36 एमएम, बैजनाथ, कसौली और कांगड़ा के गग्गल में 35 एमएम बारिश हुई है. धर्मपुर, सरकाघाट और ऊना में 28 एमएम बारिश हुई है. इसके अलावा, कुल्लू के कसोल में 22 और कांगड़ा के देहरा गोपीपुर में 21 एमएम पानी बरसा है.

Tags: Bad weather, Himachal pradesh, Shimla News, Snowfall news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर