Home /News /himachal-pradesh /

लोकसभा चुनाव में BJP के पक्ष मे किया प्रचार, HPU प्रो. प्रमोद शर्मा सस्पेंड

लोकसभा चुनाव में BJP के पक्ष मे किया प्रचार, HPU प्रो. प्रमोद शर्मा सस्पेंड

 प्रमोद शर्मा. (फाइल फोटो)

प्रमोद शर्मा. (फाइल फोटो)

बता दें कि प्रमोद शर्मा एचपीयू के एमबीए विभाग में कार्यरत हैं. वह विधानसभा चुनाव में भाजपा के टिकट पर शिमला ग्रामीण से चुनाव लड़ चुके हैं. उन्हें वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह ने हराया था.

    लोकसभा चुनाव 2019 में आचार संहिता के दौरान बतौर सरकारी कर्मी भाजपा के पक्ष मे प्रचार करने पर हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी के प्रो. प्रमोद शर्मा को सस्पेंड कर दिया गया है. चुनाव आयोग की सिफारिश के बाद यूनिवर्सिटी प्रबंधन ने यह फैसला ला है.

    लोकसभा चुनाव के बाद 21 मई को डीसी शिमला और रिटर्निंग ऑफिसर राजेश्वर गोयल ने नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा था. यूनिवर्सिटी प्रशानस ने सस्पेंशन की पुष्टि की है.

    चुनाव आयोग के नोटिस के अनुसार, प्रमोद शर्मा ने एचपीयू के ऑर्डिनेंस 35.20 के नियमों का उल्लघंन किया है. इसमें साफ लिखा गया है कि एचपीयू में नौकरी के दौरान कोई भी शिक्षक या कर्मचारी राजनीतिक गतिविधियों में भाग नहीं ले सकता है. उधर, प्रमोद शर्मा ने भाजपा के पक्ष में प्रचार सामग्री अपने फेसबुक और अन्य सोशल हैंडल्स पर भी अपलोड की है.

    कौन हैं प्रमोद शर्मा
    बता दें कि प्रमोद शर्मा एचपीयू के एमबीए विभाग में कार्यरत हैं. वह विधानसभा चुनाव में भाजपा के टिकट पर शिमला ग्रामीण से चुनाव लड़ चुके हैं. उन्हें वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह ने हराया था.

    ये भी पढ़ें: हिमाचल को गर्मी से मिलेगी राहत, 5 दिन तक बारिश का अनुमान

    अपहरण के बाद नाबालिग छात्रा की मौत, मुंह से निकल रहा था झाग

    शिमला समर फेस्टिवल का आगाज, 600 महिलाओं ने रिज पर डाली नाटी

    हिमाचल में जंगलों में आग, अब तक 264 घटनाएं आई सामने

    हिमाचल मंत्रिमंडल के विस्तार पर कुछ भी कहना अभी जल्दबाजी: CM

    छह माह की बच्ची के गले में फंसा चॉकलेट का टुकड़ा, मौत

    Tags: Lok Sabha Election 2019, Shimla

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर