शिमला में धंस रही विरासत: रिज पर डंगे के डिजाइन के लिए IIT रूड़की को 6.16 लाख की पेमेंट

शिमला में रिज मैदान का एक हिस्सा धंस गया है.

लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता एके सोनी ने कहा कि डिजाइन बनाने के लिए आईआईटी रूड़की को 6 लाख 16 हजार दे दिये गए हैं. वह बोले कि डंगे का डिजायन जल्द पूरा होगा.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश के शिमला (Shimla) जिले के एतिहासिक और धंसते रिज मैदान (Ridge Ground) को बचाने के लिए लोक निर्माण विभाग ने प्रक्रिया शुरु कर दी है. लोक निर्माण विभाग ने आईआईटी रूड़की (IIT Roorki) को धंसे हुए क्षेत्र पर लगने वाले डंगे का डिजायन का काम सौंपा है और आईआईटी रूड़की ने भी जल्द डिजाइन देने के लिए दावा किया है. इस डिजायन को बनाने के लिए लोक निर्माण विभाग ने आईआईटी को 6 लाख 16 हजार रूपये दिए हैं. इस डिजाइन के अंर्तगत ही डंगे के बेसमेंट का कार्य किया जाएगा. इसके अलावा, पाइल्स डालने का कार्य भी इसी डिजायन (Design) के अंर्तगत होगा.

फाइनल रिपोर्ट तैयार नहीं हो पाई

हालांकि, आईआईटी रूड़की की टीम ने अपनी पहली रिपोर्ट में लोक निर्माण विभाग को बताया था कि जिस क्षेत्र में रिज धंसा है, वहां पर मलबे की मिट्टी होने के चलते करीब 50 से 60 फीट गहराई में कंकरिट पाइल्स डाली जानी है. उसके उपर ही बेसमेंट का कार्य किया जाना है. लेकिन अभी तक फाइनल रिपोर्ट तैयार नहीं हो पाई है फाइनल रिपोर्ट के बाद डिजायन का कार्य भी किया जाना है. इसके लिए टीम ने कार्य करना शुरू कर दिया है.

यह बोले अधिशासी अभियंता

लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता एके सोनी ने कहा कि डिजाइन बनाने के लिए आईआईटी रूड़की को 6 लाख 16 हजार दे दिये गए हैं और टीम ने दावा किया है कि मिट्टी जांच का कार्य पूरा हो गया है और डंगे का डिजायन कार्य भी जल्द पूरा कर लिया जाएगा. डिजायन आने के तुरंत बाद कार्य भी शुरू कर लिया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.