नगर परिषद सोलन में भर्तियों में गड़बड़ी का मामला, HC ने मांगा जवाब

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: May 5, 2019, 12:27 PM IST
नगर परिषद सोलन में भर्तियों में गड़बड़ी का मामला, HC ने मांगा जवाब
शिमला हाईकोर्ट

सोलन नगर परिषद में वर्ष 1999 में हुई कर्मचारियों की भर्तियों में धांधली को लेकर हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार से दो हफ्तों में जवाब मांगा.

  • Share this:
सोलन नगर परिषद में वर्ष 1999 में हुई कर्मचारियों की भर्तियों में धांधली को लेकर हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार से दो हफ्तों में जवाब मांगा. नगर परिषद सोलन के तत्कालीन अध्यक्ष और वर्तमान विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल सहित 25 आरोपियों पर भर्ती में धांधली का आरोप लगा था. आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं 420, 468, 471, 120-बी, 31-डी के तहत मामला दर्ज किया गया था. प्रदेश की जयराम सरकार ने मामले को राजनीति से प्रेरित करार देते हुए केस वापस लेने का फैसला लिया था. प्रदेश सरकार की ओर से जिला कोर्ट में अर्जी लगाई गई, जिला कोर्ट के स्पेशल जज ने 24 जनवरी 2019 को अर्जी मंजूर कर ली और केस वापस लिया गया.

जिला कोर्ट के फैसले को याचिकाकर्ता पवन ठाकुर ने हाईकोर्ट में चुनौती दी और जिला कोर्ट के फैसले को गलत ठहराते हुए हाईकोर्ट से फैसले पर संज्ञान लेने की गुहार लगाई. हाईकोर्ट के जस्टिस सुरेश्वर ठाकुर की अदालत में चुनौती याचिका पर सुनवाई के बाद न्यायालय ने प्रदेश सरकार से दो हफ्तों में जवाब पेश करने को कहा.

गौरतलब है कि केस वापस लेने के बाद विधानसभा अध्यक्ष सहित 24 अन्य आरोपियों को बड़ी राहत के रूप में देखा जा रहा था, लेकिन जिस तरह से हाईकोर्ट ने आज प्रदेश सरकार से केस वापस लेने पर जवाब तलब किया है, कहीं न कहीं आरोपियों को मिली राहत की संभावनाएं कम होती दिखाई दे रही है.

यह भी पढ़ें: जयराम खाल से बाहर निकल आए हैं, वे शातिर निकले: वीरभद्र सिंह

वीरभद्र सिंह के तीखे आरोपों का सीएम का पलटवार, कहा- वे दबाव में हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 5, 2019, 12:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...