होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /INX MEDIA CASE: केंद्र ने IAS प्रबोध सक्सेना पर केस चलाने की अनुमति दी, CM ने कहा- कोई आधिकारिक सूचना नहीं

INX MEDIA CASE: केंद्र ने IAS प्रबोध सक्सेना पर केस चलाने की अनुमति दी, CM ने कहा- कोई आधिकारिक सूचना नहीं

आईएएस अधिकारी प्रबोध सक्सेना के खिलाफ केंद्र सरकार ने आपराधिक मामला चलाने की मंजूरी दे दी है.

आईएएस अधिकारी प्रबोध सक्सेना के खिलाफ केंद्र सरकार ने आपराधिक मामला चलाने की मंजूरी दे दी है.

पूर्व वित्त मंत्री पी.चिदंबरम पर आईएनएक्स मीडिया को लेकर चल रहे मामले में राज्य सरकार में कार्यरत आईएएस अधिकारी प्रबोध ...अधिक पढ़ें

शिमला. देश के पूर्व वित्त मंत्री पी.चिदंबरम (Ex. Finance Minister P. Chidambaram) पर आईएनएक्स मीडिया (INX Media) को लेकर चल रहे मामले में राज्य सरकार में कार्यरत आईएएस अधिकारी (IAS Officer) प्रबोध सक्सेना (Prabodh Saxena) के खिलाफ केंद्र सरकार ने आपराधिक मामला (Criminal Case) चलाने की मंजूरी दी है. आईएएस अधिकारी अधिकारी प्रबोध सक्सेना ऊर्जा विभाग (Energy Department) के प्रधान सचिव (Principal Secretary) हैं. ऐसे में प्रबोध सक्सेना की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं.

इस मामले पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने कहा कि उन्हें सूचना जरूर मिली है लेकिन आधिकारिक तौर पर इस मामले पर सरकार से अबतक कोई पत्राचार नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि मामला केंद्र सरकार का है. ऐसे में सभी कानूनी पहलूओं को ध्यान में रखते हुए आगामी कार्रवाई की जाएगी.

CM Jairam Thakur-मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि उन्हें सूचना जरूर मिली है लेकिन आधिकारिक तौर पर इस मामले पर सरकार से अबतक कोई पत्राचार नहीं हुआ है.


प्रबोध सक्सेना समेत चार बड़े अधिकारियों को बनाया है आरोपी

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की ओर से प्रबोध सक्सेना समेत 4 बड़े अधिकारियों को आरोपी बनाया गया है और इन चारों के खिलाफ प्रोसिक्यूशन की मंजूरी दी गई है. सीबीआई इस मामले में इन अधिकारियों के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश करेगी. इसके साथ ही प्रबोध सक्सेना का नाम ऑफिसर ऑन डाउटफुल इंटेग्रिटी की सूची में आ जाएगा.

प्रबोध सक्सेना पर सीवीसी ने केस चलाने की सिफारिश की थी

1990 बैच के आईएएस अधिकारी प्रबोध सक्सेना पर चिदंबरम मामले में सेंट्रल विजिलेंस कमीशन (CVC) ने केस चलाने की सिफारिश की थी. प्रबोध सक्सेना विदेशी निवेश संवर्द्धन बोर्ड में निदेशक पद पर रहे हैं. आरोप है कि निदेशक रहते हुए आईएनएक्स मीडिया को 305 करोड़ रूपए की विदेशी धनराशि दिलवाने के लिए एफआईपीबी की मंजूरी में भारी अनियमित्ताएं बरती गईं हैं.

यह भी पढ़ें: हिमाचल में चोरी कर पुणे पहुंचा आरोपी और की नानी की हत्या, चढ़ा पुलिस के हत्थे

BJP MLA के भाई का पुराना मकान गिरा, 07 मजदूर दबकर घायल

मनाली में 80 वर्षीय जापानी महिला की मौत, वशिष्ठ गांव में रूकी हुई थीं मिसाबो

Tags: CVC, Himachal pradesh, INX Media, P Chidambaram, PMO, Shimla

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें