होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

हिमाचल में जयराम सरकार का आखिरी मानूसन सत्र 10 अगस्त से, विपक्ष की सत्ता पक्ष को घेरने की तैयारी

हिमाचल में जयराम सरकार का आखिरी मानूसन सत्र 10 अगस्त से, विपक्ष की सत्ता पक्ष को घेरने की तैयारी

हिमाचल प्रदेश विधानसभा के स्पीकर विपिन सिंह ने मानसून सत्र के संबंध में जानकारी दी.

हिमाचल प्रदेश विधानसभा के स्पीकर विपिन सिंह ने मानसून सत्र के संबंध में जानकारी दी.

हिमाचल प्रदेश की 13वीं विधानसभा के 15वें सत्र की शुरुआत 10 अगस्त को सुबह 11 बजे से होगी. इसकी जानकारी विधानसभा स्पीकर विपिन सिंह ने दी. सत्र के हंगामेदार होने के पूरे आसार.

शिमला. हिमाचल प्रदेश की जयराम सरकार का आखिरी मॉनसून सत्र 10 अगस्त से शुरू होने वाला है. जयराम सरकार का अंतिम विधानसभा सत्र हंगामेदार होने के पूरे आसार हैं. विपक्ष सड़क से लेकर सदन तक सत्ता पक्ष को घेरने रणनीति तैयार कर चुका है. इस सत्र को लेकर विधानसभा से स्पीकर विपिन सिंह ने बताया कि इस सत्र में 367 प्रश्न पूछे जाएंगे. इनमें तारांकित प्रश्नों की संख्या 228 है, इनमें 167 ऑनलाइन तो 61 प्रश्नों की सूचनाएं ऑफलाइन भेजी गई हैं. 139 अतारांकित प्रश्न हैं, इनमें 85 ऑनलाइन और 54 प्रश्न ऑफलाइन भेजे गए हैं. उन्होंने बताया कि इसमें से अधिकतर प्रश्न नियमानुसार सरकार को आगामी कार्रवाई के लिए भेजे गए हैं. इसके अतिरिक्त नियम-62 के 2, नियम 130 के तहत 3 और नियम 101 के तहत एक सूचना प्राप्त हुई.

महंगाई, बेरोजगारी पर ज्यादा प्रश्न
विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि अधिकतर प्रश्न बढ़ती मंहगाई, बेरोजगारी, सड़कों की दयनीय स्थिति, स्वीकृत सड़कों की डीपीआर, प्रदेश में महाविद्यालयों, स्कूलों, स्वास्थ्य संस्थानों के अपग्रेडेशन, विभिन्न विभागों में रिक्त पदों की पूर्ति, पर्यटन, उद्यान, पेयजल की आपूर्ति, युवाओं में बढ़ते नशे के प्रयोग की रोकथाम, बढ़ते अपराधिक मामलों, सौर ऊर्जा, परिवहन व्यवस्था और ओल्ड पेंशन स्कीम को लेकर पूछे गए हैं.
इसके अलावा विधानसभा सदस्यों ने प्रश्नों के माध्यम से अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों से सम्बन्धित मुख्य मुद्दों को भी उजागर किया है. सदन को सुचारू रूप से चलाने के लिए मंगलवार को सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया जाएगा.

शिकायत का भी मिलेगा जवाब
दो निर्दलीय विधायकों के भाजपा में शामिल होने को लेकर विपक्ष की ओर से दी गई शिकायत पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि पत्र के माध्यम से विपक्षी सदस्यों को जबाव भेजा गया है और इसका विस्तृत जबाव सदन के भीतर दिया जाएगा. 13वीं विधानसभा के 15वें सत्र का आगाज 10 अगस्त को सुबह 11 बजे होगा. शोकोद्गार के साथ कार्यवाही शुरू होगी. 11 अगस्त को गैर सरकारी सदस्य कार्य दिवस के लिए निर्धारित किया गया है, जबकि 13 अगस्त को शनिवार के दिन भी सत्र का आयोजन किया जाएगा.
विपिन सिंह परमार ने कहा कि कोरोना और मंकीपॉक्स के खतरे को देखते हुए, इस संबंध में जारी गाइडलाइन और एसओपी की पालना की जाएगी. इस बाबत राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ सुरक्षा व्यवस्था और सत्र की तैयारियों से सम्बन्धित बैठक भी की गई है.

Tags: CM Jairam Thakur, Himachal news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर