अपना शहर चुनें

States

हिमाचल सरकार का बड़ा फैसला: सरकारी कर्मचारी 5 दिन आएंगे दफ्तर, शनिवार को करेंगे वर्क फ्रॉम होम

सरकारी कर्मचारियों के लिए जयराम सरकार का बड़ा फैसला. (फाइल फोटो)
सरकारी कर्मचारियों के लिए जयराम सरकार का बड़ा फैसला. (फाइल फोटो)

हिमाचल सरकार (Himachal Governent) ने सरकारी कर्मचारियों के ऑफिस आने का दिन तय कर दिया है. अब शनिवार को कर्मचारीवर्क फ्रॉम होम (Work From Home) करेंगे.  

  • Share this:
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण (COVID-19) के बढ़ते मामलों के बीच जयराम सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के ऑफिस आने के दिन को लेकर नया आदेश जारी किया है. अब नए नियम के मुताबिक, सभी सरकारी कर्मचारियों में संविदा, दैनिक वेतन, अंशकालिक और आउटसोर्सिंग के आधार पर काम करने वाले कर्मचारी सभी वर्किंग डे पर अपने ऑफिस से काम करेंगे. वहीं शनिवार को कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम (Work From Home) करना होगा. हिमाचल सरकार का ये नया नियम 1 दिसंबर से लागू किया जाएगा.

इधर, रूस की कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) हिमाचल के बद्दी (Baddi) में तैयार की जाएगी. सोलन (Solan) जिले के बद्दी क्षेत्र की कंपनी पनेशिया से इस संबंध में करार हुआ है. दिसंबर में कंपनी रूस के स्पूतनिक टीके का उत्पादन (Production) शुरू करेगी. बताया जा रहा है कि सिरमौर जिले के पांवटा में स्थापित मैनकाइंड कंपनी के साथ भी दवा की मार्केटिंग को लेकर बातचीत चल रही है.


सूत्रों के अनुसार, पनेशिया से करार से पहले बद्दी की दो और कंपनियों डॉ. रेड्डी और हेट्रो से वैक्सीन तैयार करने के लिए रूस की ओर से बातचीत चल रही थी, लेकिन उत्तर भारत में वैक्सीन बनाने वाली पनेशिया ही एकमात्र कंपनी है. इसलिए रूस ने इसी कंपनी के साथ करार किया है. जानकारों का कहना है कि पनेशिया फार्मा कंपनी में रिसर्च एवं डेवलपमेंट प्लांट तो नहीं है, इसलिए यह कंपनी दूसरों के लिए ही काम कर सकती है. रूस भारत की दवा कंपनी मे इस वैक्सीन को तैयार कराना चाहता है,इसलिए बद्दी की कंपनी इसे तैयार करेगी.






ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का ऐलान, हरियाणा में 10 दिन और बंद रहेंगे स्कूल

कंपनी को तकनीक ट्रांसफर
बताया जा रहा है कि इसकी वैक्सीन बनाने के लिए कंपनी को तकनीक ट्रांसफर हो चुकी है. कंपनी के प्लांट हेड राजेश चोपड़ा ने बताया कि वह इस संबंध में जानकारी साझा नहीं कर सकते हैं. यहां जो भी हो रहा है, उसके लिए सरकार या पीएम कार्यालय केंद्र सरकार ही जानकारी दे सकती है.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज