जेएनयू हिंसा: अध्यक्ष आईशी घोष बोली-JNU का मौहाल फिलहाल शांत लेकिन ठीक नहीं
Shimla News in Hindi

जेएनयू हिंसा: अध्यक्ष आईशी घोष बोली-JNU का मौहाल फिलहाल शांत लेकिन ठीक नहीं
आईषी घोष महिला दिवस पर शिमला पहुंची थी.

आईशी ने कहा कि हम पर लगाए आरोपों पर अगर सुबूत हैं तो चार्जशीट फाइल करें. आईशी ने जेएनयू (JNU) हिंसा के अलावा सीएए, एनपीआर और एनआरसी पर भी अपनी बात रखी और केंद्र सरकार पर जमकर निशाने साधा.

  • Share this:
शिमला. दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष (Aasi Ghosh) का कहना है कि यूनिवर्सिटी में माहौल फिलहाल, शांत है, लेकिन ठीक नहीं हैं. आईशी घोष महिला दिवस पर शिमला पहुंची थी. इस दौरान हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी (Himachal Pradesh Unvirsity) में आईशी घोष ने परिसर में हिंसा पर अपना पक्ष रखा है. आईशी घोष का कहना है कि दो महीने बीत जाने के बाद भी हमारी शिकायत पर FIR दर्ज नहीं की गई है.

आईशी ने कहा कि हम पर लगाए आरोपों पर अगर सुबूत हैं तो चार्जशीट फाइल करें. आईशी ने जेएनयू (JNU) हिंसा के अलावा सीएए, एनपीआर और एनआरसी पर भी अपनी बात रखी और केंद्र सरकार पर जमकर निशाने साधा.

महिलाओं को बराबरी का हक
जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष ने एचपीयू के गर्ल्ज हॉस्टल में व्याख्यान दिया. लेक्चर से पहले आईशी ने News-18 से बातचीत में कहा कि महिलाओं को बराबरी का हक दिलवाने के लिए पहले घर से शुरूआत करनी होगी. महिलाओं के लिए बनी नीतियां सख्ती से लागू हों और अपने अधिकारों के लिए महिलाओं को खुद आगे आना होगा. इस बाबत कुछ छात्राओं ने भी अपने विचार रखे.
जेएनयू में हुई थी हिंसा


गौरतलब है कि जेएनयू यूनिर्वसिटी में बीते माह हिंसा हुई थी. इस दौरान आईशी घोष भी घायल हो गई थी. इस दौरान यूनिवर्सिटी कैंपस में पुलिस पर स्टूडेंट के साथ मारपीट लगे थे.

ये भी पढ़ें: VIDEO: कांगड़ा के स्कूल में परीक्षा में करवाई नकल, विरोध पर टीचर से हाथापाई

Yes Bank Crises: धर्मशाला स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के काम में आ सकती है बाधा!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading