Kangra News: गर्मी से राहत पाने युवक गया था खबरू वाटरफॉल, डुबकी लगाते ही डूब गया

डूबे हुए शख्स को तलाशने में जुटी एनडीआरएफ की टीम.

खबरू ट्रैक सड़क मार्ग से 5 किलोमीटर की खड़ी और कठिन चढ़ाई चढ़कर आता है. यह बेहद दुर्गम इलाका है और काफी ऊंचाई पर भी है. यहां अभी भी मोबाइल नेटवर्क नहीं है. यही वजह रही रही कि वक्त रहते रेस्कयू टीम को बुलाया नहीं जा सका.

  • Share this:
कांगड़ा. शाहपुर के धार्मिक पर्यटन क्षेत्र खबरु महादेव के जलप्रपात के नीचे दबे युवक का शव आखिरकार बरामद कर लिया गया है. यह लाश 21 साल के केशव की है, जो कि शाहपुर के चड़ी का रहने वाला था. दरअसल केशव गुरुवार को अपने दोस्तों के साथ धार्मिक पर्यटन स्थल खबरू महादेव गया हुआ था और यहां वाटर फॉल के नीचे बने एक छोटे से तलाब में नहाने के लिए जैसे ही डुबकी लगाई, वह नीचे ही धंस गया और वापस नहीं लौट पाया. इस घटना को आसपास नहा रहे लोगों ने देखा तो उन्होंने चिल्लाना शुरू कर दिया. पास खड़े स्थानीय लोगों ने तलाब में डुबकी लगाकर उसे खोजने की भी कोशिश की, मगर नाकाम रहे.

बेहद दुर्गम इलाका है

इस हादसे की जानकारी प्रशासन या पुलिस को तुरंत नहीं दी जा सकी, क्योंकि खबरू ट्रैक सड़क मार्ग से 5 किलोमीटर की खड़ी और कठिन चढ़ाई चढ़कर आता है. यह बेहद दुर्गम इलाका है और काफी ऊंचाई पर भी है. यहां अभी भी मोबाइल नेटवर्क नहीं है. यही वजह रही रही कि वक्त रहते रेस्कयू टीम को बुलाया नहीं जा सका.



जितनी जल्दी मुमकिन हुआ पुलिस को दी गई हादसे की खबर

मौके पर मौजूद लोगों ने जितनी जल्दी संभव हुआ नेटवर्क में आकर इसकी जानकारी स्थानीय प्रशासन और पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मौका मुआयना किया और एनडीआरएफ से संपर्क किया. जब एनडीआरएफ नूरपुर के सब इंस्पेक्टर आशुतोष काला की अगुवाई में 10 जवानों की टीम मौके पर पहुंची तो उन्होंने रात होने के कारण सुबह के वक्त रेस्क्यू ऑपरेशन करना तय किया.

आखिरी कोशिश में मिली सफलता

आज सुबह टीम मौके पर पहुंची तो शुरुआती कई कोशिशें नाकाम रहीं. बावजूद एनडीआरएफ की टीम लगातार तलाश में जुटी रही. हालत यह थी कि पानी का टेंपरेचर कम होने के चलते जवानों का शरीर भी बेहद ठंडा पड़ने लग चुका था. स्थानीय लोगों ने एनडीआरएफ के जवानों की हौसलाअफजाई की और उनके लिए आग का बंदोबस्त किया. उसके बाद जैसे ही अंतिम प्रयास करने के लिए एनडीआरएफ के जवान संजय कुमार ने डुबकी लगाई तो उन्हें सफलता मिल गई और केशव का शव निकाला जा सका.

अधिकारियों के बयान

एनडीआरएफ के संजय कुमार ने कहा कि उनकी टीम ने कई जानें बचाई हैं, मगर वाटर फॉल में डूबे किसी शख्स को आज दिन तक नहीं बचाया है. एनडीआरएफ के सब इंस्पेक्टर आशुतोष काला ने बताया कि यहां का अनुभव बेहद ही कठिन रहा है, यहां का पानी हमारे जवानों को अपनी ओर खींच रहा था फिर भी हमारे जवानों ने कड़ी मशक्कत की. एसडीएम मुरारी लाल ने कहा कि जान नहीं बचा पाने का उन्हें मलाल है, मगर भविष्य में यहां ऐसा न हो इसके लिए प्रयास किए जाएंगे. एसएचओ त्रिलोचन राजपूत ने बताया कि पुलिस शव का पंचनामा करके पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेज रही है और जल्द ही परिजनों के सपुर्द कर देगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.