• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • लैपटॉप खरीद मामला : पूर्व डिप्टी एडवोकेट जनरल ने हाईकोर्ट में दायर की याचिका

लैपटॉप खरीद मामला : पूर्व डिप्टी एडवोकेट जनरल ने हाईकोर्ट में दायर की याचिका

IT मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने कहा कि विनय शर्मा ने उन पर झूठे आरोप लगाए हैं.

IT मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने कहा कि विनय शर्मा ने उन पर झूठे आरोप लगाए हैं.

पूर्व डिप्टी एडवोकेट जनरल विनय शर्मा ने सरकार पर लैपटॉप खरीद में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की है. साथ ही मामले में आईटी मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा को भी घसीटा है.

  • Share this:
शिमला. मेधावी छात्रों (Meritorious Students) के लिए लैपटाप खरीद (Laptop purchase) को कैबिनेट की मंजूरी मिलने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. पूर्व डिप्टी एडवोकेट जनरल (Former Deputy Advocate General) विनय शर्मा (Vinay Sharma) ने सरकार पर लैपटॉप खरीद में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए हाईकोर्ट (High Court) में याचिका दायर की है. साथ ही इस पूरे मामले में आईटी मंत्री (IT Minister) डॉ. रामलाल मारकंडा (Dr. Ramlal Markanda) को भी घसीटा है. आईटी मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने पलटवार किया है. उन्होंने एडवोकेट विनय शर्मा के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर हाईकोर्ट में केस किया गया है. सरकार 21 नवंबर को इस पूरे मामले पर जवाब देगी.

 उच्च कक्षाओं के लिए लैपटॉप खरीद में 5 हजार रुपये ज्यादा लगे

लैपटॉप की स्पेसिफिकेशन पर उठे सवालों के जवाब में मारकंडा ने कहा कि इसे शिक्षा विभाग (Education Department) तय करता है. शिक्षा विभाग की तकनीकी कमेटी ने सब तय किया. इलेक्ट्रोनिक कार्पोरेशन केवल टेंडर कॉल करता है. इस बार लैपटॉप में ड्यूल रैम भी दी गई है. साथ ही कपंनियों ने भी कहा कि वे केवल 10 वीं तक के छात्रों को ही डिस्काउंट दे सकते हैं जबकि उच्च कक्षाओं के लिए लैपटॉप खरीद में 5 हजार रुपये ज्यादा लगे हैं. छात्रों के लिए एमएस ऑफिस भी दिया गया है जिससे लैपटॉप की कीमत बढ़ गई. तकनीकी बीडिंग के दौरान तीन कंपनियां, लेनेवो, एस्सर और एचपी के प्रतिनिधि मौजूद रहे, जिसमें लेनेवो के प्रतिनिधियों ने भी माना कि जो स्पेसिफिकेशन बाकी दो कंपनियां दे रही हैं वो वे नहीं दे रहे हैं. ऐसे में जब बाकी दोनों कंपनियों के रेट्स में पांच प्रतिशत का अंतर रहा तो नियमों के अनुसार दोनों को 60:40 के अनुपात में टेंडर दिया गया. सरकार ने लैपटॉप वितरण का काम भी शुरू कर दिया है.

डॉ. रामलाल मारकंडा ने कहा कि सरकार 21 नवंबर को इस पूरे मामले पर जवाब देगी.


डॉ. रामलाल मारकंडा ने कहा कि विनय शर्मा ने उन पर झूठे आरोप लगाए हैं. अगर विनय शर्मा ने आरोपों पर माफी नहीं मांगी तो वे उनके खिलाफ हाईकोर्ट में मानहानि का केस करेंगे. बहरहाल मामले ने पूरी तरह से सियासी रंग ले लिया है. ऐसे में देखना होगा कि 21 नवंबर को होने वाली सुनवाई में सरकार क्या पक्ष रखती है.

ये भी पढ़ें - बदलता रहा आसमान का रंग: सुबह नीला, दोपहर में पीला और शाम को काले हुए बदरा

ये भी पढ़ें - सुंदरनगर में 7 साल की बच्ची से रेप, आरोपी नाबालिग भाई पर FIR दर्ज

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज