शिमला: गन्दगी फैलाने वालों की रिज पर लगी LED स्क्रीन पर होगी स्क्रीनिंग

नगर निगम शिमला ने निगम की डोर-टू-डोर गारबेज सुविधा से न जुड़ें करीब 185 भवन मालिकों के बिजली पानी काटने के आदेश जारी किए हैं.

News18 Himachal Pradesh
Updated: July 22, 2019, 5:27 PM IST
शिमला: गन्दगी फैलाने वालों की रिज पर लगी LED स्क्रीन पर होगी स्क्रीनिंग
शिमला में गंदगी फैलाने वालों पर नगर निगम शिमला कड़ी नजर रख रहा है.
News18 Himachal Pradesh
Updated: July 22, 2019, 5:27 PM IST
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में गंदगी फैलाने वालों पर नगर निगम शिमला कड़ी नजर रख रहा है. निगम ने ऐसे लोगों पर कड़ी निगरानी रखने के लिए शहर में CCTV कैमरे स्थापित किए हैं, जो गंदगी फ़ैलाने वाले लोगों पर निगम की तीसरी आँख से निगरानी कर रहा है.

निगम ने शहर के संजौली और ईंजनघर वार्ड समेत कई अन्य जगहों पर लोगों को कूड़ा फेंकते हुए पकड़ा है, जिनकी तस्वीरों को जल्द ही  रिज पर लगी स्कीन पर डिस्प्ले किया जाएगा.

5 हजार जुर्माना भी लगाया जाएगा
शहर में खुले में गंदगी फैलाने वाले ऐसे लोगों के नगर निगम रिज पर लगी एलईडी स्क्रीन पर लाइव प्रसारित कर रहा है. साथ ही ऐसे लोगों की पहचान कर पांच हजार रुपए का जुर्माना भी कर रहा है. सडक़ों पर खुलेआम कूड़ा फेंकने वालों नगर निगम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए ऐसे लोगों की तस्वीरो को सार्वजनिक कर दिया है.

जगह-जगह सीसीटीवी कैमरा स्थापित
नगर निगम ने शहर में जगह-जगह सीसीटीवी कैमरा स्थापित किए हैं, जिसमें कई लोग खुलेआम कूड़ा फेंकते हुए कैद हुए है. एमसी शिमला कूड़े की लाईव मॉनिटरिंग कर रहा है इसके तहत कूड़ा फेंकने वालें लोगों पर शिंकजा कसने के लिए नगर निगम ने गुपचुप तरीके से कई हॉट स्पाट एरिया में सीसीटीवी कैमरा स्थापित किए है.

185 भवन मालिकों के बिजली पानी काटने के आदेश
Loading...

प्रशासन का कहना है कि जिन स्थानों पर कैमरे लगाए गए हैं, जैसे ही कोई भी वहां पर कूड़ा फेंकेगा, वैसे ही उसकी पूरी हरकत की लाइव स्क्रीनिंग रिज पर लगी एलईडी स्क्रीन पर दिखाई देगी. नगर निगम शिमला ने निगम की डोर-टू-डोर गारबेज सुविधा से न जुड़ें करीब 185 भवन मालिकों के बिजली पानी काटने के आदेश जारी किए हैं.

ये भी पढ़ें: शिमला में बंदरों और कुत्तों का आतंक, 15 लोगों को काटा

वन संरक्षण के लिए इस पंचायत को हिमाचल में मिला दूसरा स्थान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 22, 2019, 4:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...