लाइव टीवी

सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट मंडी इंटरनेशनल एयरपोर्ट को सैंद्धातिक मंजूरी, पूरा खर्च वहन करेगा केंद्र

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 24, 2019, 4:52 PM IST
सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट मंडी इंटरनेशनल एयरपोर्ट को सैंद्धातिक मंजूरी, पूरा खर्च वहन करेगा केंद्र
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू का भुंतर एयरपोर्ट.(FILE PHOTO)

Mandi Airport: गौरतलब है कि मंडी जिला के बल्ह में इंटरेशनल एयरपोर्ट के लिए जमीन ढूंढी गई है. सीएम जयराम ठाकुर भी इसे अपना ड्रीम प्रोजेक्ट कहते हैं.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल को केंद्र सरकार (Center Government) की बड़ी सौगात मिली है. मंडी में प्रस्तावित इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Mandi International Airport) को केंद्र सरकार ने सैद्धांतिक प्रदान कर दी है. नागरिक विमानन मंत्रालय भारत सरकार ने आज भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के सहयोग से ज़िला मंडी में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण के लिए सैद्धांतिक स्वीकृति प्रदान की है. इसके अतिरिक्त मंत्रालय ने शिमला, कांगड़ा और कुल्लू हवाई अड्डों के विस्तार को भी स्वीकृति प्रदान की. यह निर्णय दिल्ली में हुई बैठक में लिया गया जिसकी अध्यक्षता नागरिक विमानन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी ने की थी.

दूसरे अड्डों का भी होगा विस्तार
हिमाचल की ओर से बैठक में वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी ने भाग लिया. एयरपोर्ट निर्माण का पूरा खर्च केंद्र सरकार उठाएगी. मुख्य सचिव ने कहा कि शिमला और कांगड़ा के हवाई अड्डों के विस्तार की लागत को केन्द्रीय नागर विमानन मंत्रालय वहन करेगा.

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण का एक दल शीघ्र ही कुल्लू और मनाली हवाई अड्डों के विस्तार के सर्वेक्षण के लिए दौरा करेगा. उड़ान-2 के तहत नागरिक विमानन मंत्रालय ने प्रदेश में छः प्रस्तावित हेलीपोर्ट के निर्माण और परिचालन की लागत के लिए सैद्धांतिक स्वीकृति प्रदान कर दी गई है. उड़ान-1 के तहत वर्तमान सेवाएं पहले की तरह जारी रहेगी.

मंडी में प्रस्तावित एयरपोर्ट.
मंडी में प्रस्तावित एयरपोर्ट.


सीएम का ड्रीम प्रोजेक्ट
गौरतलब है कि मंडी जिला के बल्ह में इंटरेशनल एयरपोर्ट के लिए जमीन ढूंढी गई है. सीएम जयराम ठाकुर भी इसे अपना ड्रीम प्रोजेक्ट कहते हैं. एयरपोर्ट बनने से हिमाचल में पर्यटन को भी पंख लगेंगे. वर्तमान में हिमाचल में कुल्लू मनाली एयरपोर्ट भुंतर, कांगड़ा के गग्गल और शिमला के जुब्बड़हटी में एयरपोर्ट है. जहां उड़ानें हो रही हैं. हिमाचल के मंडी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के लिए 3490-33-20 बीघा भूमि चिह्नित की गई है. इसमें से 3160-18-04 बीघा भूमि निजी और 330-15-16 बीघा भूमि सरकारी है. प्रदेश सरकार के आग्रह पर भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण नई दिल्ली ने स्थल निरीक्षण किया था और इसे अंतरराष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे की स्थापना के लिए उपयुक्त पाया था.
Loading...

ये भी पढ़ें: हिमाचल उपचुनाव: धर्मशाला से BJP के नैहरिया जीते, तीसरे स्थान पर रही कांग्रेस

पच्छाद उपचुनाव: BJP की रीना कश्यप जीतीं, गंगूराम मुसाफिर को हराया

धर्मशाला सीट: जानिये कौन हैं पहली बार चुनाव जीते BJP के विशाल नैहरिया

शिमला में बाहरी राज्यों से आने वाले वाहनों के प्रवेश पर लगेगी 'ग्रीन फीस'

सरकारी अस्पताल में स्कूली छात्रा की संदिग्ध मौत, तनाव के बाद पुलिस तैनात

CM के प्रधान सचिव कुंडू अनुराग ठाकुर मिले, इन्वेस्टर मीट के लिए मांगा सहयोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 3:50 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...