• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • मंडी उपचुनाव: मंत्री महेंद्र सिंह बोले- मेरा चुनाव लड़ना तय था, मगर टिकट ब्रिगेडियर के कर्मों में लिखा था

मंडी उपचुनाव: मंत्री महेंद्र सिंह बोले- मेरा चुनाव लड़ना तय था, मगर टिकट ब्रिगेडियर के कर्मों में लिखा था

मंडी में चुनाव प्रचार के दौरान मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर.

मंडी में चुनाव प्रचार के दौरान मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर.

Mandi by-elections: पहले माना जा रहा था कि भाजपा के टिकट पर मंत्री महेंद्र सिंह मंडी लोकसभा सीट का चुनाव लड़ेंगे. लेकिन, वे सशर्त चुनाव लड़ना चाहते थे कि अगले विधानसभा चुनाव में धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र से उनके बेटे रजत ठाकुर को टिकट दिया जाए.

  • Share this:

    शिमला. हिमाचल प्रदेश में मंडी लोकसभा सीट पर प्रचार जोरों पर है. भाजपा और कांग्रेस के प्रचारकों की फौज दिन रात अपने अपने प्रत्याशी के लिए वोट मांग रहे हैं. मंडी से भाजपा की तरफ से ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर मैदान में हैं, वहीं, उनके मुकाबले कांग्रेस की प्रतिभा सिंह हैं. लेकिन इसी बीच भाजपा सरकार में नंबर दो के मंत्री महेंद्र सिंह ने टिकट आवंटन को लेकर अहम बयान दिया है. महेंद्र सिंह ने एक चुनावी जनसभा में कहा कि वह मंडी से चुनाव लड़ने के लिए लगभग तय उम्मीदवार थे. उन्होंने कहा, ‘इस बार मेरा टिकट लगभग-लगभग 98 प्रतिशत तय हो गया था. मोदी जी की तरफ से, अमित शाह की तरफ, जगत प्रकाश नड्डा की तरफ से और जयराम ठाकुर की तरफ से कि कैंडिडेट महेंद्र सिंह होगा.” इस पर मैंने कहा कि ठीक है जो पार्टी का हुक्म होगा, वह माना जाएगा और वह चुनाव लड़ लेंगे.

    महेंद्र सिंह ने कहा कि ब्रिगेडियर के कर्मों में लिखा था कि वह चुनाव लड़ेंगे और जिसने फौज की नौकरी की है, उन्हें पता है कि लड़ाई क्या चीज है? बता दें कि महेंद्र सिंह को मंडी लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा की ओर से चुनाव प्रभारी बनाया गया है. इस सीट में मंडी से लेकर शिमला के रामपुर तक 17 विधानसभा क्षेत्र आते हैं.

    चर्चा में था महेंद्र सिंह का नाम

    पहले माना जा रहा था कि भाजपा के लिए मंत्री महेंद्र सिंह ही मंडी लोकसभा सीट का चुनाव लड़ेंगे. लेकिन, वह सशर्त चुनाव लड़ना चाहते थे कि अगले विधानसभा चुनाव में धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र से उनके बेटे रजत ठाकुर को टिकट दिया जाए. लेकिन कहा गया कि पार्टी परिवारवाद के खिलाफ है. और कहते हैं कि इसी के चलते जुब्बल कोटखाई से पूर्व मंत्री नरेंद्र बरागटा के बेटे चेतन बरगटा का टिकट भी कट गया, लेकिन अब वे आजाद चुनाव लड़ रहे हैं.

    ये है फाइनल प्रत्याशी

    मंडी लोकसभा उपचुनाव के लिए नामांकन वापसी की समय सीमा समाप्त होने के बाद बुधवार को चुनाव मैदान में रहे सभी 6 उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिए हैं. चुनाव चिन्ह मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल, पंजीकृत राजनीतिक दल व निर्दलीय तीन हिस्से में बांटकर दिए गए. भाजपा के प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर को कमल, इण्डियन नेशनल कांग्रेस की प्रत्याशी प्रतिभा सिंह को हाथ, राष्ट्रीय लोकनीति पार्टी की अंबिका श्याम को लैपटॉप, हिमाचल जनक्रांति पार्टी के मुंशी राम ठाकुर को सेब चुनाव चिन्ह दिया गया है. इसके अलावा आजाद उम्मीदवार अनिल कुमार को कप व तश्तरी, और सुभाष मोहन स्नेही को टेलीफोन चुनाव चिन्ह दिया गया है. अब 30 अक्टूबर 2021 को लोकसभा उप चुनावों के लिए मतदान होना है, जिसमें जनता अपने पसंदीदा प्रत्याशी को चुनकर देश की संसद में भेजेगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज