दिल्ली में केंद्रीय मंत्री से मिले CM, मंडी एयरपोर्ट के काम में तेजी लाने की मांग

केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी से मुलाकात के दौरान सीएम जयराम ठाकुर.

केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी से मुलाकात के दौरान सीएम जयराम ठाकुर.

Mandi Proposed Airport: मंडी के बल्ह घाटी में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनेगा. इसका निर्माण दो चरणों में होगा. पहले चरण में 2400 मीटर लंबा रनवे बनाया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2020, 7:40 AM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने केंद्रीय विमानन मंत्री से जिला मंडी (Mandi) के नागचला में ग्रीन फील्ड हवाई अड्डे के रेडार सर्वेक्षण में तेजी लाने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि प्रस्तावित हवाई अड्डा हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के पर्यटन को प्रोत्साहन प्रदान करने के साथ आवश्यकता के समय एयरफोर्स के लिए बेस के रूप में सेवाएं प्रदान करने के लिए मील का पत्थर साबित होगा.

केंद्रीय मंत्री ने दिए निर्देश

उन्होंने सभी सर्वेक्षण औपचारिकताओं को शीघ्र पूरा करने के साथ राज्य सरकार के विकास के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने का अनुरोध किया. मुख्यमंत्री ने शिमला और गगल हवाई अड्डों के रन-वे के विस्तार के साथ शिमला हवाई अड्डे पर वायु परिवहन सेवा को पुनः शुरू करने का भी आग्रह किया. केन्द्रीय मंत्री ने भारतीय विमानपत्तन प्राधिकारण के अधिकारियों को प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए.

मंडी में प्रस्तावित है एयरपोर्ट
मंडी के बल्ह घाटी में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनेगा. इसका निर्माण दो चरणों में होगा. पहले चरण में 2400 मीटर लंबा रनवे बनाया जाएगा. एयरपोर्ट के ऑपरेशनल होने के बाद इसमें एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया का 51 और राज्य सरकार का 49% शेयर रहेगा. एयरपोर्ट के लिए 3400 बीघा जमीन एक्वायर की जाएगी. इसमें ज्यादातर जमीन प्राइवेट लैंड है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज